बरेली जिला महिला अस्पताल में लगी भीषण आग, सेवा ठप होने के बाद रेफर किए गए नवजात की मौत

punjabkesari.in Wednesday, Nov 29, 2023 - 03:10 PM (IST)

Bareilly News: बरेली के जिला महिला अस्पताल में स्थित विशेष नवजात देखभाल इकाई (एसएनसीयू) में शॉर्ट सर्किट के कारण लगी आग के चलते सेवा ठप होने से बदायूं के अस्पताल में स्थानांतरित किए जा रहे एक बच्चे की मौत हो गई। तीन अन्य बच्चों को सैफई मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है। प्रशासन ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर त्रिभुवन प्रसाद ने एसएनसीयू के कर्मचारियों के हवाले से बताया कि मंगलवार को अस्पताल के बरामदे में लगी फाल्स सीलिंग में शॉर्ट सर्किट होने से चिंगारी निकलने लगी। उसके बाद बल्ब एक के बाद एक धमाके के साथ टूटने लगे और एसएनसीयू में रखी कुछ चीजों में आग लग गई। वार्ड में मौजूद स्टाफ और परिजन घबरा गए। बचाव के लिए मेन स्विच बोर्ड से एसएनसीयू और ऑपरेशन थियेटर की बिजली आपूर्ति बंद कर दी गई जिसके बाद स्थिति नियंत्रित की जा सकी।

रेफर किए गए नवजात की रास्ते में मौत
प्रसाद ने बताया कि आग लगने के कारण सेवा ठप होने के चलते एसएनसीयू वार्ड में भर्ती 11 नवजात बच्चों में से पांच को बदायूं मेडिकल कॉलेज रेफर कर एंबुलेन्स से वहां भेजा गया। इनमें से एक बच्चे ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। तीन बच्चों को बदायूं मेडिकल कालेज से इटावा के सैफई मेडिकल कालेज रेफर किया गया है, जबकि एक बच्चे को बदायूं में ही रखा गया है। उन्होंने बताया कि अफरातफरी के बीच पांच बच्चों को उनके परिजन निजी अस्पतालों में ले गए, जबकि एक को अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी।

जिलाधिकारी रविंद्र कुमार ने बुधवार को किया जिला महिला अस्पताल के एसएनसीयू का दौरा
बरेली के जिलाधिकारी रविंद्र कुमार ने बुधवार को जिला महिला अस्पताल के एसएनसीयू का दौरा किया। उन्होंने बताया कि उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर विश्राम सिंह को पूरे प्रकरण की जांच के आदेश दिए हैं। राजकीय मेडिकल कॉलेज बदायूं के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर सी.पी. सिंह ने बताया कि बरेली से 5 बच्चे रेफर किए गए थे। लेकिन इनमें से, शबाना नामक महिला के बच्चे की रास्ते में ही मौत हो गई। चार बच्चों में से 3 बच्चों की हालत बिगड़ने पर उन्हें सैफई मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है। एक बच्चे का इलाज बदायूं मेडिकल कॉलेज में हो रहा है। इस बीच, सैफई मेडिकल कॉलेज के बाल रोग विभाग के अध्यक्ष डॉक्टर राजेश यादव ने बताया कि बदायूं मेडिकल कॉलेज रेफर होकर आए तीनों बच्चों की हालत गंभीर है। उनको आईसीयू में भर्ती किया गया है। तीनों बच्चे गंभीर संक्रमण की चपेट में हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Anil Kapoor

Recommended News

Related News

static