गरीबों की जेबों पर डाका! हमीरपुर के महिला अस्पताल में किसी भी लाभार्थी को नहीं मिला आयुष्मान भारत योजना का लाभ

punjabkesari.in Thursday, Mar 17, 2022 - 03:59 PM (IST)

हमीरपुर: उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिला महिला अस्पताल में आज तक किसी भी लाभार्थी को आयुष्मान भारत योजना का लाभ नहीं मिला है। अस्पताल की मुख्य चिकित्साधीक्षक (सीएमएस) डॉ.फौजिया अंजुम नोमानी ने गुरूवार को बताया कि गरीबों के स्वास्थ्य लाभ के लिये शासन ने पांच लाख रुपये के इलाज के लिये आयुष्मान योजना सितंबर 2018 को लागू की गयी थी मगर उनके आने के पहले किसी भी महिला डाक्टर ने आयुष्मान कार्ड का प्रयोग नहीं किया। अस्पताल में हर रोज सीजर आपरेशन होते है मगर उस पर व्यय होने वाले धन को मरीज से लिया जाता है। उनके आने के बाद एक साल में जब सात मरीजो को आयुष्मान भारत के तहत इलाज कराया मगर यहा पर आयुष्मान मित्र की लापरवाही के चलते शासन ने सातों केस खारिज कर दिये।

उन्होंने कहा कि अस्पताल में पिछले एक साल से कोई आयुष्मान मित्र भी नहीं है। इस बारे में वह सीएमओ को कई पत्र लिख चुकी है मगर नतीजा अब तक सिफर रहा है। शासन ने योजना के सफल संचालन के लिये डॉ अंकिता, गौरव, रोहित समेत पांच लोगों को यहां नियुक्त किया है मगर ये लोग क्षेत्र में जाकर लोगो को प्रेरित नहीं करते हैं, वही मरीजो ने सीएमओ को बताया कि आयुष्मान कार्ड लेकर वह कानपुर के कई अस्पतालों में जो काडर् के लिये अधिकृत है मगर भुगतान को लेकर आ रही दिक्कतो को लेकर उपचार करने से साफ इंकार कर देते है। हालाकि कार्ड बनाने के लिये कई लोग अभी भी अस्पतालों के चक्कर काटते रहते हैं मगर कोई सुनने वाला नही है।      

मुख्य चिकित्साधिकारी (सीएमओ) डॉ. एके रावत ने बताया कि जिले में 4,31,480 कार्ड बनाने का लक्ष्य प्राप्त हुआ था। जिसमे अभी तक 138754 कार्ड बनाये गये है। जो लक्ष्य का 32 फीसदी है। जिसमे 3547 लोगो का योजना के तहत उपचार किया गया है। 3338 लोगो का क्लेम कंपनी को दिया गया है। सीएमओ का कहना है कि महिला अस्पताल में आयुष्मान मित्र की नियुक्ति के लिये शासन को पत्र लिखा गया है। जो आयुष्मान योजना के तहत टीम को नियुक्त किया गया है उसको भी सख्त आदेश कर दिये गये हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static