भदोही: विधायक की हत्या कराकर उपचुनाव कराने की रच रहे थे साजिश, वीडियो वायरल होने पर खुली पोल... दो हिरासत में

punjabkesari.in Sunday, May 15, 2022 - 12:44 PM (IST)

भदोही: उत्तर प्रदेश के भदोही जिले की ज्ञानपुर विधानसभा सीट से सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के सहयोगी निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल (निषाद) के विधायक विपुल दुबे की कथित तौर पर हत्या कराकर इस क्षेत्र से उपचुनाव कराने की योजना का वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने शनिवार को दो लोगों को हिरासत में लिया है। पुलिस ने इसकी जानकारी दी।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार जिले में सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो का संज्ञान लिया गया जिसमें चार लोग ज्ञानपुर विधानसभा की बातचीत कर रहे हैं। भदोही पुलिस अधीक्षक डॉक्टर अनिल कुमार ने बताया कि वायरल वीडियो में दिखाई दे रहे लोग सुपारी देकर एक व्यक्ति से ज्ञानपुर के विधायक विपुल दुबे की हत्या की योजना बना रहे हैं। उन्होंने बताया कि वीडियो में यह कहा जा रहा है कि इस सीट पर पुनः चुनाव हो जायेगा जिससे मनमाफिक विधायक बन सकेगा। कुमार ने बताया कि इस मामले का संज्ञान लेकर वीडियो में दिख रहे सोनू तिवारी और सद्दाम नाम के दो व्यक्तियों को हिरासत में लिया गया है। उन्होंने बताया कि दोनों ज्ञानपुर क्षेत्र के निवासी हैं।

उन्होंने बताया कि यह वीडियो किसी के घर में विधायक को रास्ते से हटाने और पुनः चुनाव की बात करने का है जिसमें पैसे को लेकर एक महिला की भी आवाज़ सुनाई दे रही है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि हिरासत में लिए गए व्यक्तियों से पूछताछ के साथ मामले की हर पहलू से जांच की जा रही है और वह खुद इसकी निगरानी कर रहे हैं। ज्ञानपुर के निषाद पार्टी से विधायक विपुल दूबे ने कहा कि बीस साल तक इस विधान सभा में मारकाट होती रही है। उन्होंने बिना किसी का नाम लिए कहा कि जो व्यक्ति इस बार सफल नहीं हो सका जिसे जनता ने ख़ारिज कर दिया, ऐसे लोगों को योगी सरकार में ठीक कर दिया जाएगा।

उल्‍लेखनीय है कि ज्ञानपुर विधानसभा क्षेत्र से तीन बार समाजवादी पार्टी के और एक बार निषाद पार्टी से कुल चार बार विधायक रहे विजय मिश्रा इस बार विधानसभा चुनाव में तीसरे स्थान पर थे। वह अपने एक रिश्तेदार कृष्ण मोहन तिवारी की संपत्ति हड़पने, उनकी फर्म पर पर कब्ज़ा करने और वाराणसी की एक गायिका से बलात्कार सहित कई मामलों में दो साल से आगरा की जेल में बंद हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static