BJP सांसद बृजभूषण ने दिया भड़काऊ बयान, कहा- हर घर में घुस कर मारेंगे जिस घर में अफजल निकलेगा

punjabkesari.in Saturday, Feb 26, 2022 - 06:35 PM (IST)

चंदौली: यूपी के चंदौली में सातवें और अंतिम चरण में विधानसभा चुनाव होने हैं और 7 मार्च को मतदान होना है। उसको देखते हुए राजनीतिक दलों ने चुनाव प्रचार तेज कर दिया है। चुनाव प्रचार के दौरान मतदाताओं को अपनी तरफ खींचने के लिए राजनीतिक दल हर हथकंडा अपनाने मैं लगे हुए हैं। जिले के सैयदराजा विधानसभा के धानापुर इलाके में सैयदराजा विधानसभा के वर्तमान विधायक और भाजपा प्रत्याशी सुशील सिंह के समर्थन में सभा का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रुप में उत्तर प्रदेश के गोंडा के भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। भाजपा सांसद अपने निजी हेलीकॉप्टर से सभा को सम्बोधित करने पहुंचे। सभा में शामिल लोगों की भीड़ को देखकर भाजपा सांसद ब्रज भूषण शरण सिंह ने विपक्ष पर जमकर हमला बोला। इस दौरान भाजपा सांसद ने भड़काऊ बयान भी दे दिया।

भाजपा सांसद ने कहा आज भी नारा लगता है, अफजल हम शर्मिंदा हैं तेरे कातिल जिंदा है। आज भी नारा लगता है भारत के टुकड़े होंगे इंशाल्लाह इंशाल्लाह। ऐ इंशा अल्लाह उत्तर प्रदेश में बुलडोजर बाबा की सरकार है। इसलिए ज्यादा इंशाल्लाह मत करो। देश में मोदी की सरकार है। अगर तुम्हारा नारा होगा भारत के टुकड़े होंगे इंशाल्लाह इंशाल्लाह तो धानापुर के इस क्रांतिकारी धरती के नौजवानों का नारा है। अगर तुम्हारा नारा है अगर तुम्हारा नारा होगा। अफजल हम शर्मिंदा है तेरे कातिल जिंदा है। भारत के टुकड़े होंगे इंशाल्लाह इंशाल्लाह तो धानापुर के क्रांतिकारी धरती से नौजवानों का नारा है। हर घर में घुस कर मारेंगे जिस घर में अफजल निकलेगा हर घर घर में घुस कर मारेंगे जिस घर में अफजल निकलेगा।

भाजपा सांसद ने कहा कि हम तो अपने गोंडा में देबिपाटन मंडल में खुलेआम बोलते हैं, खुलेआम बोलते हैं आप अपने आप को मुसलमान मानो, हम आपको मुसलमान नहीं मानते हम मानते हैं कि 5 पुस्त पहले आप हमारे दादा के भाई थे खुलेआम बोलते हैं। खोजो अपना इतिहास देखो पांच पुस्त पहले आप मेरे बाबा के भाई थे खोजो अपने इतिहास। हम जानते हैं कैसे धर्म परिवर्तन करना पड़ा। बहुत लंबी हो जाएगी। मेरे पास है। 10 वीं शताब्दी से लेकर 15 वी शताब्दी तक हिन्दुओ का धर्म परिवर्तन हुआ। चन्दौली भगवान शिव की धरती है परशुराम जी का भी कार्य क्षेत्र ही रहा है। परशुराम की धरती मानी जाएगी। भगवान शिव की धरती मानी जाएगी। मुगलसराय कहा से आ गया यह हंसने की बात नहीं है, मेरे भाइयों हम कौन थे क्या हो गए और क्या होंगे। अभी भी जाग जाओ मिलकर विचार करो यह सभी समस्या को। यद्यपि हमें इतिहास अपना प्राप्त पूरा है नहीं फिर भी हम कौन थे यह भी अधूरा है अभी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static