निर्माणाधीन मकान में देवर भाभी का मिला शव, परिवारिक कलह में आत्महत्या की आशंका

punjabkesari.in Tuesday, Sep 07, 2021 - 04:02 PM (IST)

चित्रकूट: जिले के मुख्यालय से लगे कसहाई गांव के निर्माणाधीन घर मे देवर भाभी का शव मिलने से हड़कम्प मच गया। बताया जा रहा है, दोनों रात में खाना खाकर कमरे में सोने चले गए थे। मंगलवार सुबह देवर का शव फांसी के फंदे से लटकता मिला। जबकि भाभी का शव चारपाई में पड़ा हुआ था। परिजनों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने जांच पड़ताल के बाद शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

बता दें कि मामला शहर कोतवाली क्षेत्र के कसहाई गांव का है। सोमवार रात दोनों खाना खाकर कमरे में सोने चले गए थे। मंगलवार सुबह गिरजा की सास उसे जगाने गई। उसने देखा कि सुखेंद्र का शव कमरे के गेट में फांसी के फंदे से लटक रहा था। जबकि गिरिजा का शव चारपाई पर पड़ा था। वह चिल्लाती और रोती हुई बाहर गई और पड़ोसियों को घटना के बारे में बताया। गांव वालों ने घटना की सूचना पुलिस को दिया जिससे पुलिस घटना स्थल पर पहुंच गई। इस मामले में ग्राम प्रधान प्रतिनिधि का बड़ा भईया ने बताया कि 4 साल पहले गिरजा देवी के पति की भी मौत हो चुकी है घर मे देवर भाभी और तीन बच्चे रहते थे, लेकिन 2 बच्चे बाहर कमाई कर रहे है एक लड़का रहता था तो ओ कल अपनी बहन के यहां चला गया था। देखकर ये पता चलता है कि  देवर और भाभी का  मार्डर हुआ हैं। क्यों कि दरवाजे पर कैसे फांसी लगाई जा सकती है।  फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है जांच के बाद ही सत्यता सामने आएगी।

अपर पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र कुमार रॉय  ने बताया कि कसहाई गांव में एक महिला तथा एक पुरुष मृत अवस्था में पाए गए है। पुलिस द्वारा मौके पर  पहुंचकर शव को कब्जे में लिया है। प्रथम दृष्टया यह मामला आत्महत्या का प्रतीत होता है। महिला द्वारा कुछ जहरीला पदार्थ खाया जाना प्रतीत होता है तथा पुरुष द्वारा फांसी लगाई गई है। शरीर पर कोई भी बाहरी चोट के निशान नहीं है। यह दोनों रिश्ते में देवर भाभी थे। प्रारम्भिक जांच में पारिवारिक कलह का मामला सामने आ रहा है। शवों को पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया गया है। सभी पक्षों की जांच कर विधिक कार्रवाई की जा रही है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static