''रामायण विश्व महाकोश'' का विमोचन कर बोले CM योगी- इंडोनेशिया कहता है मजबूरन इस्लाम स्वीकारा, पूर्वज तो राम ही हैं

3/6/2021 6:54:21 PM

लखनऊः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज 'रामायण विश्व महाकोश' के प्रथम संस्करण का विमोचन किया। रामायण कार्यशाला कार्यक्रम में उन्होंने भगवान राम एवं उनकी महत्ता का वर्णन किया।

सीएम योगी ने कहा कि दक्षिण पूर्व एशिया में जैसे हम राम की संस्कृति पर गौरव करते हैं वैसे वहां के लोग भी करते हैं। इंडोनेशिया का हर व्यक्ति कहता है कि हमने किन्ही परिस्थितियों में इस्लाम स्वीकार किया होगा लेकिन हमारे पूर्वज तो राम ही हैं। उन्होंने कहा कि आज पाकिस्तान एक अलग राजनितिक इकाई के रूप में भारत को अलग ही चुनौती  देता है ,लेकिन सच्चाई यही है कि 1947 से पहले वह भारत का ही हिस्सा था और भगवान राम के समय में भगवान ने ही अपने भाई के पुत्र को वहां का शासक बनाकर वहां सीमाओं के विस्तार के लिए भेजा था। उन्होंने कहा कि  रामायण महाभारत की कहानियां हमें बताती है कि भारत की उत्तर से दक्षिण और पूरब से पश्चिम तक का विस्तार वृहत्तर भारत का दृश्य प्रस्तुत करती है।

उन्होंने आगे कहा कि  कई सारे लोगों ने राम के अस्तित्व पर प्रश्नचिन्ह लगाये  वही अयोध्या के बारे में संदेह प्रकट करते थे,  यही विकृत मानसिकता भारत को अपने गौरव से सदैव वंचित करती रही है। सीएम ने कहा कि यहां लोग छोटे छोटे बातों को लेकर वितंडा खड़ा करते हैं सेक्युलरिज़्म शब्द है ही सबसे बड़ा खतरा है।

सीएम ने आगे कहा कि जितने लोग भारत के खिलाफ वातावरण और माहौल बनाते हैं इन्हे दुनिया से जूठन के रूप में पैसा मिल जाता होगा लेकिन दुनिया के अंदर की कद्र नहीं है, इनके बारे में लोग जानते हैं कि ये अपने देश के साथ गद्दारी करते हैं , दुनिया के हितैषी नहीं हो सकते ये लोग ,ये बिकाऊ लोग हैं , चंद  पैसो के लिए इन्होने अपनी आत्मा बेच दिया  हैं , भारत के बारे दुष्प्रचार करने वाले ना घर के हैं ना ही घाट के।

 


Content Writer

Moulshree Tripathi

Related News