कोविड की दवाई रेमिडिसिवर की जमकर हो रही कालाबाजारी, पकड़े गए अस्पताल के वार्ड बॉय

punjabkesari.in Wednesday, Apr 28, 2021 - 05:48 PM (IST)

मुरादाबाद: उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जनपद में पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। जनपद के प्राइवेट कोविड हॉस्पिटलों में वार्ड बॉय द्वारा सरकार से मिल रही कोविड की दवाइयां चोरी कर कालाबाजारी की जा रही थी। एसएसपी मुरादाबाद ने एक नंबर जारी किया था, जिस पर एसएसपी को गोपनीय शिकायत प्राप्त हुई थी। जिसके बाद एसएसपी मुरादाबाद ने टीम गठित करके आरोपियों की गिरफ्तारी की है और उनके पास से चोरी करी गई दवाइयां भी बरामद की हैं।

दरअसल, मुरादाबाद जनपद में लगातार कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने की संख्या तेजी से बढ़ रही है। लगातार स्वास्थ्य विभाग मरीजों को बेहतर इलाज देने के लिए प्रयास कर रहा है, लेकिन कालाबाजारी करने वाले लगातार कालाबाजारी कर रहे हैं। जिस पर पुलिस ने अपना शिकंजा कसते हुए कालाबाजारी करने वाले आरोपियों पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जो रेमडेसिवीर इंजेक्शन की कालाबाज़ारी कर रहे थे। सभी आरोपी 3 बड़े निजी अस्पताल के 4 कर्मचारी है। मरीज़ के परिजनों एसएसपी प्रभाकर चौधरी को मैसेज करके जानकारी दी थी। जिस पर एसएसपी मुरादाबाद के आदेश पर SOG ने चारों कालाबाज़ारी करने वालों को गिरफ्तार किया।

पुलिस ने इन लोगों के पास से 2 रेमडेसिवीर इंजेक्शन के साथ ही जरूरी जीवन रक्षक दवाई भी आरोपियों से पुलिस द्वारा बरामद की है। इसके अलावा आरोपियों के पास 62 हज़ार रुपए नक़द भी बरामद हुए हैं। यह सभी मुरादाबाद के अलग-अलग हॉस्पिटलों में तैनात थे। जिसमें ब्राइट स्टार हॉस्पिटल का कर्मचारी कामरान व पीयूष, कॉसमॉस हॉस्पिटल का कर्मचारी सद्दाम, L 3 हॉस्पिटल TMU का कर्मचारी जीवन गिरफ्तार,थाना मझौला इलाके में पुलिस ने इन आरोपियों की गिरफ्तारी है।

वहीं एएसपी अनिल कुमार यादव ने जानकारी देते हुए बताया एसएसपी मुरादाबाद को गोपनीय शिकायत प्राप्त हुई थी, जिस पर तत्काल ही टीम गठित करके आरोपियों की गिरफ्तारी की गई है। यह सभी आरोपी वार्ड बॉय के पथ पर मुरादाबाद के अलग-अलग हॉस्पिटलों में तैनात हैं। जानकारी करने पर प्रकाश में आया है यह आरोपी मुरादाबाद के नामी हॉस्पिटल से जुड़े हुए हैं। जिसमें टीएमयू, कॉसमॉस, और ब्राइटस्टार शामिल हैं और इनका एक साथी फरार चल रहा है, जिस की भी गिरफ्तारी जल्द से जल्द कर ली जाएगी। साथ ही इस पर भी जांच की जा रही है। इन लोगों के पास यह दवाइयां कैसे पहुंचे और कोई भी इनमें लिफ्ट पाया जाएगा तो उस पर भी कार्यवाही की जाएगी।


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static