गंगा में तैरता मिला MBBS छात्रा का शव, सुसाइड नोट में लिखी ऐसी बातें कि सुनकर हाे जाएंगे भावुक

punjabkesari.in Saturday, Jan 25, 2020 - 04:04 PM (IST)

कानपुरः उन्नाव के गंगा घाट पर पानी में एक MBBS की छात्रा का शव तैरता हुआ मिला। जिससे पूरे इलाके में हड़कंप मच गया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव की पहचान गणेश शंकर मेडिकल कालेज में अंतिम वर्ष की छात्रा अमृता सिंह के रूप में की है। शव के पास एक सुसाइड भी मिला है। जिसे पढ़कर किसी का भी कलेजा मुंह को आ जाए। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
PunjabKesari
ससुाइड नोट में लिखा है कि मुझे माफ करना मैं बहुत कमजोर हो गई हूं। पता नहीं कैसे, लेकिन मुझे अपने डर से ही डर लगने लगा है। मेरे पास सबकुछ है दर्द, डर और तनाव। अब इस दर्द को रोज-रोज बर्दाश्त नहीं कर सकती हूं। मैं सभी से माफी मांगती हूं। मैं बहादुर नहीं बन सकी।
PunjabKesari
आगे लिखा कि मुझे नहीं पता कि सबकुछ तैयार होने के बाद जब परीक्षाएं आती हैं तो मैं क्यों डर जाती हूं। इस वजह से पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित नहीं हो पाता है। मेरी दोस्त अनुषी कहती है कि तुम कुछ ज्यादा ही सोचती हो। आराम से रहो सब कुछ ठीक होगा और तुम सफल होगी। फिर भी मेरे हाथ में कुछ भी नहीं है।
PunjabKesari
वह रोना चाहती है मर जाना चाहती है। मैं मम्मी-पापा से माफी मांगती हूं। मैंने बहुत कोशिश की लेकिन शायद इससे ज्यादा नहीं कर पाऊंगी। आपकी बेटी बहुत कमजोर पड़ गई है। आई लव यू मम्मी-पापा। हर चीज के लिए धन्यवाद। बता दें कि मृतक अमृता ने करीब साढ़े चार पेज के सुसाइड नोट लिखा है। अमृता को इतने तनाव में क्यों थी कि इसका जवाब किसी के पास नहीं है।

मूलरूप से झांसी के केकेपुरी कॉलोनी में रहने वाले अमृता सिंह के पिता रामस्नेही सिंह सिविल इंजीनियर हैं। रामस्नेही फिलहाल इटावा में तैनात हैं। परिवार में पत्नी श्याम सुंदरी के अलावा तीन बेटियां और एक बेटा है। उनकी एक बेटी आरती की शादी हो चुकी है और दूसरी अनामिका फ्रांस में एमबीए कर रही है।


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static