घायल होने के बावजूद माफियाओं से अकेले जूझते रहे दारोगा, पैर पर लगी हुई थी गोली

11/4/2019 10:59:39 AM

आगराः उत्तर प्रदेश में खनन माफिया के बढ़ते आतंक के बीच जनपद के इरादतनगर थाना क्षेत्र में माफिया ने एक दरोगा को गोली मार दी। वहीं गोली लगने से बावजूद जाबांज दारोगा कई देर तक खनन माफियाओं से झूझते रहे। दारोगा से पीछा छुड़ाने के लिए माफियाओं ने दारोगा पर कई फायर किए। जिसके बाद घायल दारोगा को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनकी हालत गंभीर है।

पुलिस के मुताबिक, रविवार को थाने में तैनात दरोगा निशामक त्यागी और सिपाही जितेंद्र गश्त पर थे। वह अवैध बालू-चम्बल और पत्थर के खनन खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत चेंकिग कर रहे थे। इस दौरान गांव सदुपरा पीपल रास्ते पर रेत से लदी ट्रैक्टर-ट्रॉली आ रही थी। सब इंसपेक्टर त्यागी ने बताया कि उन्होंने उसे रुकवाया। इस पर ट्रैक्टर चालक ट्रॉली में लदी रेत को उतारने लगा। रोकने पर उसने तमंचे से गोली चलाई को त्यागी के पांव में लगी है। इस दौरान घायल होने के बावजूद दारोग माफियाओं से जूझते रहे। आरोपी ने भागने का प्रयास किया, लेकिन दोनों पुलिसकर्मियों ने उसे पकड़ लिया।

थाना इरादतनगर के पुलिस निरीक्षक सूरज प्रसाद के अनुसार खनन माफिया के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। वहीं घायल दारोगा को आगरा के पुष्पांजलि अस्पताल में भर्ती कराया है। जहां उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है।
















 


Tamanna Bhardwaj

Related News