ड्राइविंग लाइसेंस टेस्ट में फेल हो रहे पढ़े-लिखे लोगः UP परिवहन विभाग

punjabkesari.in Wednesday, Jul 28, 2021 - 03:26 PM (IST)

बरेली: ड्राइविंग लाइसेंस के लिए होने वाले पहले आनलाइन टेस्ट में पढ़े-लिखे लोग ज्यादा फेल हो रहे। परिवहन विभाग के मुताबिक एक दिन में 250 लोगों का स्लाट परीक्षा के लिए बुक होता है। इसमें से केवल 150 ही परीक्षा देने आते हैं। इसमें प्रतिदिन 30 से 40 आवेदनकर्ता ही आनलाइन परीक्षा में पास हो रहे हैं। फेल होने वाले आवेदकों में सबसे ज्यादा बीए, एमए, एमबीए, इंजीनियरिंग के छात्र हैं। बरेली के उप परिवहन आयुक्त एम एल चौरसिया ने बुधवार को बताया कि जुलाई में 75 फीसद से ज्यादा आवेदक आनलाइन टेस्ट में फेल हुए हैं। इन सभी को फिर से टेस्ट देने का मौका 50 रुपए की फीस जमा करने के बाद मिलेगा।

परिवहन विभाग की ओर से व्यवस्था है कि कोई भी नया ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए आवेदन करता है तो उसे पहले लर्निंग लाइसेंस जारी किया जाता है इसके लिए आवेदक को विभाग की तमाम प्रक्रिया पूरी करने के साथ ही आनलाइन टेस्ट भी देना होता है। इसमें 15 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते हैं , जिनमे नौ का देना होता है सही जवाब,प्रत्येक प्रश्न के उत्तर के लिए मिलता है 30 सेकेंड समय निर्धारित है। आनलाइन टेस्ट में वाहन चलाते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, पाकिर्ंग आदि से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। 

इंटरनेट मीडिया व कार्यालय परिसर में लगे बैनर आदि को देखकर आसानी से परीक्षा उत्तीर्ण की जा सकती है। चौरसिया ने बताया कि हैरान करने वाली बात है कि पढ़े-लिखे लोग परिवहन विभाग के सामान्य ताकिर्क टेस्ट को पास नहीं कर पा रहे हैं। जबकि इसमें यातायात संकेत,वहां चलते समय किंकिन बातों का ध्यान रखना चहिये पाकिर्ंग आदि से संबधित प्रश्न पूंछे जाते है। 


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static