सिर पर चोट के निशान और दोनों पैर कटे...दूर-दूर तलाशने पर भी नहीं मिला पैर, जाने प्रेम प्रसंग में कैसे हुई युवक की दर्दनाक मौत

punjabkesari.in Saturday, Oct 01, 2022 - 02:09 PM (IST)

फर्रुखाबादः उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां पर प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमिका के परिजनों ने प्रेमी की हत्या कर दी। हत्या के बाद उसके शव के रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया। इस वारदात की जानकारी होने पर परिजनों में कोहराम मच गया। परिजनों ने मामले की जानकारी पुलिस को देकर प्रेमिका और उसके परिवार वालों के खिलाफ मामला दर्ज काराया। मृतक के परिजनों का आरोप है कि उनके बेटे की हत्या उसकी प्रेमिका के परिवार वालों ने की है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

PunjabKesari

बता दें कि जिले में शुक्रवार सुबह एक युवक का शव रेलवे ट्रैक के किनारे फेंका मिलने की सूचना पुलिस को दी गई। जिसकी जानकारी मिलने पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और निरीक्षण किया। पुलिस को जब शव मिला तो उसके सिर पर चोट के निशान थे और दोनों पैर कटे थे। पुलिस को एक पैर कुछ दूर रेलवे ट्रैक पर पड़ा मिला और पुलिस ने दूसरा पैर तलाशना शुरू किया। लेकिन पुलिस को दूसरा पैर दूर-दूर तलाशने पर भी नहीं मिला। ट्रैक से लेकर घर जाने वाले रास्ते में तीन जगह खून पड़ा था। पुलिस ने युवक की पहचान फतेहगढ़ कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला नेकपुर कलां निवासी स्व. कैलाश चंद्र यादव का 20 वर्षीय पुत्र सूरज यादव के नाम से की। जो मजदूरी करता था। फिर इस मामले में पुलिस ने मृतक के परिजनों की तहरीर पर मामला दर्ज कर जांच करनी शुरू की और परिजनों से हत्या के बारे में जानकारी ली।

PunjabKesari

मां ने लगाया प्रेमिका के परिजनों पर हत्या का आरोप
पुलिस के पूछने पर मां पूनम ने बेटे की प्रेमिका के परिजनों पर हत्या किए जाने का आरोप लगाया। मां ने बताया कि बेटे का एक लड़की से प्रेम प्रसंग चल रहा था। लड़की के घर वालों ने कुछ दिन पहले ही घर पर चढ़कर धमकी दी थी और तोड़फोड़ भी की दी थी। जिसके बाद 12 दिन से बेटा काम पर भी नहीं जा रहा था। वह काफी डरा था। पूनम ने आरोप लगाया कि लड़की के घर वालों ने ही बेटे की हत्या कर दी है और शव रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया। युवक की मां की तहरीर पर पुलिस ने चार नामजद सहित नौ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। प्रेमिका को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने नाबालिग प्रेमिका को निगरानी में ले लिया है। एसपी ने बताया कि घटना के खुलासे के लिए एएसपी के नेतृत्व में चार टीमों का गठन किया गया है।

PunjabKesari

युवती को लेकर भाग गया था युवक
इस मामले में यह भी जानकारी मिली की मरने के 12 दिन पहले युवक एक युवती को लेकर चला गया था। युवती की बुआ ने सूरज के खिलाफ थाने में तहरीर दी थी। पुलिस ने सूरज के परिजनों पर दबाव बनाया तो उसी रात युवती अपने घर लौट भी आई। पुलिस ने दोनों पक्षों में समझौता करा दिया था। इसके बाद परिजनों ने सूरज को मोहल्ला कुचिया निवासी मौसी कृष्णा के घर भेज दिया था। गुरुवार रात सूरज मौसी के बेटे अजय व सागर के साथ फतेहगढ़ में राम बारात देखने गया और वहां से अपने घर जाने की बात कहकर नेकपुर कलां चला गया, फिर लौटकर नहीं आया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Pooja Gill

Related News

Recommended News

static