प्रकृति के लिए 'वरदान' बना लॉकडाउन, बिजनौर से दिखने लगीं नैनीताल की पहाड़ियां

punjabkesari.in Tuesday, May 12, 2020 - 01:05 PM (IST)

बिजनौरः चीन से शुरू हुआ कोरोना भले ही दुनिया के लिए सर दर्द बना हुआ है, लेकिन इसके बीच प्राकृतिक और वातावरण में कितना सुधार है, यह अब प्रकृति ने दिखाना शुरु कर दिया है। जिसे देखकर लगता है कि महिनों से घरों में कैद इंसान परेशान है तो अब प्रकृति अपने इस सौंदर्य को लेकर काफी खुश हैं। अब प्राकृतिक ने अपने आप को कुछ दिन में ही बदलकर दिखाया है। ऐसे में घरों में कैद लोगों ने इस दृश्य को अपनी छतों से खड़े होकर देखा तो हैरान हो गए। आसमान, नदियां साफ हो गई हैं। प्रकृति निखर कर सामने आई है। 
PunjabKesari
इसी कड़ी में बिजनौर में स्थानीय लोगों को नैनीताल की पहाड़ियां भी दिखाई दीं। बिजनौर से नैनीताल की दूरी 175 किलोमीटर है। जहां सूर्य को उगते देखा गया। लोगों ने इसकी फोटो भी खींची। बिजनौर के लोगों ने पहली बार ऐसा नजारा देखा। यह सब इसलिए हो पाया क्योंकि लॉकडाउन की वजह से प्रदूषण में काफी कमी देखी आई है। पूरे देश में वायु, जल और ध्वनि प्रदूषण में भारी कमी आई है। लोग साफ हवा में सांस ले रहे हैं।

लोगों का कहना है कि पहले कभी भी यह पहाड़ियां बिजनौर से नहीं दिखाई दीं और ना ही कभी सूर्य इस तरह पहाड़ों के पीछे से उदय होते हुए नजर आए। लोगों का मानना है कि प्रकृति का यह चमत्कार लॉकडाउन की वजह से हुआ है, क्योंकि हर जगह से प्रदूषण कम हुआ है। नैनीताल की पहाड़ियों के अलावा बिजनौर से लैंसडाउन की पहाड़ियां और पर्वत भी दिखाई दे रहे हैं। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static