लखनऊ में बड़ा हादसा: दर्शनार्थियों से भरी ट्रैक्टर ट्राली तालाब में पलटी, 10 की मौत 37 घायल, CM योगी ने की मुआवजे की घोषणा

punjabkesari.in Monday, Sep 26, 2022 - 11:01 PM (IST)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के इटौंजा कुम्हरावां रोड पर सोमवार को देवी दर्शन के लिये दर्शनार्थियों को लेकर जा रहे एक ट्रैक्टर की ट्राली तालाब में जा गिरी, जिसमे 10 लोगों की मौत हो गई और 37 लोग घायल हुए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर दुख व्यक्त करते हुए सभी घायलों को तत्काल उपचार के लिये अस्पताल पहुंचाने का जिला प्रशासन को निर्देश दिया है।
PunjabKesari
लखनऊ रेंज के पुलिस आयुक्त लक्ष्मी सिंह ने बताया कि घायलों को इटौंजा स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र (सीएचसी) में भर्ती कराया गया है। इनमें एक की हालत गंभीर होने के कारण उसे पास के अस्पताल में इलाज के लिये रेफर किया गया है। मृतकों में एक ही परिवार के भी कुछ सदस्य शामिल हैं। उन्होंने बताया कि इस हादसे में घायल हुए लोगों की संख्या भी देर शाम तक बढ़कर 37 हो गयी है। पुलिस के अनुसार मृतकों की पहचान रूचि मौर्य पुत्री राम रतन (18 वर्ष), सुखराली पत्नी सुखलाल (45 वर्ष), सुषमा मौर्य पत्नी राम रतन (51 वर्ष), कोमल पत्नी चुन्नीलाल, केतकी देवी पत्नी छोटेलाल (55 वर्ष), अन्नपूर्णा पत्नी बाबूलाल (40 वर्ष), मालती पत्नी राजकिशोर (40 वर्ष), बिट्टी पुत्री चुन्नी (14 वर्ष) अशिका पुत्री पवन कुमार (13 वर्ष) और सुनीता पत्नी रामखेलावन (36 वर्ष) शामिल हैं।              

पुलिस के अनुसार यह दुर्घटना इटौंजा के कुम्हरावां रोड पर गद्दीनपुरवा गांव के पास हुयी। ट्रैक्टर ट्राली में 47 लोग सवार थे। ट्रॉली के तालाब में पलट कर गिरने से 10 लोगों की मौत हो गयी, जबकि शेष अन्य को सुरक्षित बचा लिया गया। लखनऊ के जिलाधिकारी सूर्यपाल गंगवार ने बताया कि सीतापुर जिले के अटरिया गांव के 47 लोग ट्रैक्टर ट्राली पर सवार होकर चंद्रिका देवी के दर्शन के लिए जा रहे थे। तभी गद्दीनपुरवा गांव के पास अनियंत्रित होकर ट्रैक्टर की ट्रॉली सड़क के किनारे तलाब में पलट गयी। पुलिस ने अब तक 37 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया है। इनमें से 26 लोगों को घायल होने पर इटौंजा सीएचसी में भर्ती कराया गया है। घायलों में नौ महिलायें और एक छोटी बच्ची शामिल है।       

मुख्यमंत्री योगी ने इस सड़क हादसे में हुई जनहानि पर गहरा दु:ख प्रकट किया है। उन्होंने दिवंगत लागों की आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों को आपदा राहत कोष से 4 - 4 लाख रुपये राहत राशि देने की घोषणा की है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static