लखीमपुर केस: हत्या का मुकदमा दर्ज होने के बाद मंत्री के बेटे ने दी सफाई, कहा- मामले की न्यायिक जांच की जाए

punjabkesari.in Tuesday, Oct 05, 2021 - 04:23 PM (IST)

लखीमपुर खीरी: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हिंसक झड़प के दौरान हुए किसानों की मौत मामले में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा समेत 14 लोगों पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है। आशीष पर हत्या अपराधिक साजिश समेत कई मामले दर्ज किए गए है। जिसके बाद आशीष ने अपनी सफाई देते हुए न्यायिक जांच की मांग की है। वहीं, अब तक इस घटना में 10 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। प्रशासन और किसानों में समझौते पर सहमति भी बन गई। सरकार ने मृतकों को 45-45 लाख देने का ऐलान किया है। साथ ही घायलों को 10-10 लाख देने पर सहमति जताई है।

PunjabKesari

बता दें कि मंत्री पुत्र आशिष मिश्र समेत 14 लोगों के खिलाफ धारा 302,120B,और 147 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। वहीं, आशीष इस मामले में सफाई देते हुए कहा कि वह सुबह नौ बजे से कार्यक्रम खत्म होने तक बनवारीपुर में ही थे। उन्होंने अपने ऊपर लग रहे आरोपों को खारिज करते हुए इस मामले की न्यायिक जांच कराने की मांग की। आशीष ने कहा कि मामले में दोषियों को सजा जरूर मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि उनके तीन वाहन डिप्टी सीएम को रिसीव करने गए थे, लेकिन रास्ते में कुछ लोगों ने उन पर हमला कर दिया। गाड़ियों पर पथराव करने लगे। आशीष ने कहा अराजक तत्वों ने एक गाड़ी को आग के हवाले कर दिया और तीन कार्यकर्ता को लाठी डंडों से पीट-पीटकर मार डाला।

PunjabKesari

गौरतलब है कि बीते सप्ताह केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी के ‘किसानों को देख लेंगे’   वाले  बयान से किसान आक्रोशित थे। इसी का विरोध करने के लिए यूपी के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के काफिले को काला झंडा दिखाने के लिए गए थे जहां पर टेनी के बेटे ने अपनी गाड़ी से किसानों को रौंद दिया, जिसके बाद भड़के किसानों ने आशीष की गाड़ी को आग के हवाले कर दिया। वहीं इस घटना में मरने वालों की संख्या 10 बताई जा रही है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static