ट्रैक्टर से किसान महापंचायत में पहुंची प्रियंका, बोली- जब तक है दम तब तक किसान के लिए लड़ूंगी, चाहे 100 दिन...

3/7/2021 5:01:20 PM

मेरठ: कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि जब तक दम है तब तक किसानों के लिये लड़ेंगी, चाहे 100 दिन हों या 100 साल। कांग्रेस महासचिव वाड्रा आज उत्तर प्रदेश में मेरठ के कैली गांव में आयोजित किसान महापंचायत को संबोधित कर रही थी। उन्होंने जय जवान जय किसान से महापंचायत को संबोधित करते हुए कहा कि मेरठ की धरती 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम की गवाह रही है। अंग्रेजी हुकूमत ने उस समय मेरठ और आस पास के क्षेत्रों के किसानों पर भारी दमन किया था और सैकड़ों किसानों को फांसी पर चढ़ा दिया गया था।       

PunjabKesari
प्रियंका गांधी ने कहा कि मेरठ की धरती दमनकारी हुकूमत के खिलाफ विद्रोह एवं किसानों की हक की लड़ाई को संघर्ष के पसीने से सींचने वाली धरती है। उन्होंने कहा कि भापजा सरकार भी अंग्रेजों की ही तरह सरकार किसानों का शोषण कर रही है।  उन्होंने कहा कि अंग्रेजी साम्राज्य किसानों को परेशान कर रहा था और भाजपा सरकार भी किसानों का शोषण कर रही है। तीनों कृषि कानून ऐसे कानून हैं जिससे किसान की खेती बुरी तरह प्रभावित होगी। उन्होंने कहा कि कृषि कानून सिर्फ बड़े उद्योगपतियों को लाभ देने वाले हैं।

वाड्रा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका, पाकिस्तान, चीन घूमकर आये लेकिन उनके पास दिल्ली के बाडर्र पर बैठे किसनों के लिये समय नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को देश के किसान का आदर करना चाहिए जो देशवासियों को अन्न मुहैया करता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी ने 16 हजार करोड़ के दो हवाई जहाज खरीदे हैं जबकि संसद के सौन्द्रीयकर्ण के लिए 20 हजार करोड़ रखे हैं। उन्होंने कहा कि पूरे देश का बकाया 15 हजार करोड़ है और उत्तर प्रदेश का बकाया 10 हजार करोड़ है साथ ही किसान बीमे से 26 हजार करोड़ का क्या हुआ इसका जवाब मोदी जी नहीं दे रहे हैं।       

प्रियंका वाड्रा आज दिल्ली से सड़क मार्ग से मुरादनगर, मोदीनगर होते हुए दोपहर करीब दो बजे कैली गांव पहुंचीं थीं और ट्रैक्टर पर सवार होकर मंच स्थल पहुंची। उनके साथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, राष्ट्रीय सचिव धीरज गुर्जर, पूर्व सांसद हरेंद्र मलिक, पूर्व विधायक इमरान मसूद, समेत कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे। 


Content Writer

Umakant yadav

Related News