जून अंत तक चालू हो जाएगा गोरखपुर का खाद कारखाना : केंद्रीय उर्वरक मंत्री

3/4/2021 7:04:43 PM

गोरखपुर, चार मार्च (भाषा) केंद्रीय उर्वरक एवं रसायन मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने बृहस्पतिवार को कहा कि गोरखपुर का खाद कारखाना 30 जून से चालू हो जाएगा।
गौड़ा बृहस्पतिवार को मुख्यमंत्री के साथ हिंदुस्तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड (एचयूआरएल) के खाद कारखाना का निरीक्षण करने के बाद पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कारखाने का 98 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है।
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि दो दशक पहले पुराने खाद कारखाने के बंद होने के बाद उसकी जगह आधुनिक नया कारखाना लगाने की मांग बतौर सांसद योगी आदित्यनाथ लगातार करते रहे थे। आज उनका सपना पूरा होने जा रहा है।
उन्होंने कहा कि देश में पहले 80 से 90 लाख मीट्रिक टन खाद का आयात करना पड़ता था। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भरता के दृष्टिकोण के कारण आयात पर निर्भरता समाप्त करने के लिए गोरखपुर समेत पांच स्थानों पर नए संयंत्र लगाए जा रहे हैं। इन संयंत्रों से 62 लाख मीट्रिक टन खाद का उत्पादन सुनिश्चित होगा।
गोरखपुर का खाद कारखाना शुरू होने के बाद उत्तर प्रदेश, बिहार के किसानों को समय से और उचित मूल्य पर यूरिया खाद की उपलब्धता सुनिश्चित हो जाएगी।
गौड़ा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की दूरदर्शिता से कोविड काल के बावजूद खाद की बिक्री में 60 फीसद का इजाफा हुआ।

उन्होंने कहा कि किसानों का हित सरकार की शीर्ष प्राथमिकता है और इसी सिलसिले में ऐसी व्यवस्था बनाई जा रही है कि खाद सब्सिडी का शत प्रतिशत पैसा सीधे किसानों के खातों में पहुंचे।

गौड़ा ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर गोरखपुर में शीघ्र ही प्लास्टिक पार्क की स्थापना होगी। इससे बड़ी संख्या में रोजगार का सृजन होगा। प्लास्टिक पार्क के लिए राज्य सरकार ने 52 एकड़ भूमि की व्यवस्था कर दी है। अप्रैल माह के अंत तक इसके लिए डीपीआर तैयार हो जाएगी।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

PTI News Agency

Related News