चारों ओर से पानी में डूबा स्कूल, छत पर बल्ली लगाकर एंट्री करती हैं टीचर

9/25/2020 9:36:42 AM

गोरखपर: उत्तर प्रदेश के सीएम सिटी में प्राथमिक विद्यालयों का  हाल देखना हो तो बरसात के मौसम से बढ़िया कोई और विकल्प नही है। खोराबार इलाके का पूर्व माध्यमिक स्कूल झरवां अपने लचर व्यवस्था का एक बेहतरीन उदाहरण पेश कर रहा है। हालत  यह है कि स्कूल की शिक्षिकाएं छत पर बांस बल्ली लगाकर ऑफिस के फाइल मेंटेन करने का काम कर रही हैं,लेकिन इसकी कोई सुध भी नही लेने वाला। 

बता दें कि खोराबार  इलाके का पूर्व माध्यमिक स्कूल झरवां जुलाई से ही पानी में डूब हुआ है,क्लासरूम में भी 7 फिट तक पानी लगी हुई है। गनीमत है कि स्कूल का नाम और छत अभी भी सेफ है। जिसपर बल्ली लगाकर स्कुल के टीचर दफ्तर के फाइल मेंटेन का काम करते हैं। जब बारिश होती है तो टीचर बगल में प्लास्टिक का छज्जा है जिसमें छिपकर काम चलाते हैं। वहीं स्कुल की बाउंड्री में भरे पानी में आस पास के लड़के मछली मारते हैं। आज पूरे दिन बारिश के बीच में  स्कूल की टीचर्स प्लास्टिक का  त्रिपाल लगाकर  अपनी अपनी फाइलें मेंटेन कर रहे थें। 

वहीं  टीचर अमन ने बताया कि हर साल  बरसात के मौसम में पानी लग जाता है,उस टाइम दूसरी जगह कमरा लेकर  हमलोग बच्चों को पढ़ाते हैं। बरसात के मौसम में सिर्फ पानी की ही समस्या नही है,खोराबार के जिस इलाके में यह स्कुल है वहां कूड़े का ढेर भी लगा रहता है,जहां से इतनी बदबू आती है कि टीचर्स के लिए पढ़ाना भी दुर्भर हो जाता है।

 

 


Moulshree Tripathi

Related News