...तो इस बयान से आहत हैं किसान, इसलिए डिप्टी सीएम के दौरे पर काटा गया बवाल

punjabkesari.in Sunday, Oct 03, 2021 - 06:16 PM (IST)

लखीमपुर खीरी: लखीमपुर खीरी में आज बड़ा हादसा हो गया है। जहां तिकुनिया क्षेत्र में रविवार को धरने पर बैठे किसानों को एक कार ने कुचल दिया। इस हादसे में 3 किसानों की मौत हो गई है। अब जो बवाल आज हुआ है उसकी असली जड़ कुछ और है। इस बवाल की नींव पिछले महीने 26 सितंबर को डाल दी गई थी, जब केंद्रीय राज्यमंत्री अजय मिश्रा ने कार्यक्रम के दौरान किसानों को लेकर विवादित बयान दे दिया। 
PunjabKesari
26 सितंबर को अजय मिश्रा एक जनसभा को संबोधित करने गए थे, लेकिन वहां पर पहुंचने से पहले उन्हें किसानों का विरोध झेलना पड़ा। उनके काफिले को काले झंडे भी दिखा दिए गए। उससे नाराज होकर अजय मिश्रा ने रैली को संबोधित करते हुए किसानों पर जमकर निशाना साधा। उनका गुस्सा इतना ज्यादा रहा कि उन्होंने किसानों को धमकी तक दे डाली।

तो ये बयान है फसाद की जड़
संबोधन में अजय मिश्रा ने कहा था कि अगर मैं तब अपनी गाड़ी से उतर जाता तो इन्हें भागने का मौका भी नहीं मिलता। ये कृषि कानून का विरोध तो सिर्फ 10-15 लोग कर रहे हैं। इसके बाद राज्यमंत्री ने बोल दिया कि सुधर जाओ, वरना हम सुधार देंगे। हमे ऐसा करने में सिर्फ दो मिनट लगेंगे। यहां के लोग जानते हैं कि मैं किसी चुनौती से भागता नहीं हूं। 

आज था डिप्टी सीएम केशव मौर्य का दौरा 
बता दें कि जिले के निघासन क्षेत्र में आज उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का दौरा था। बताया जा रहा है कि किसानों ने आज विरोध करने का ऐलान किया था। इसी समय कार ने तीन किसानों को रौंद दिया। जिससे गुस्साए किसानों तीन चार गाडियों को आग के हवाले कर दिया। वहीं भाजपा नेताओं को आरोप है कि धरना प्रदर्शन की आड़ में अराजक्तों ने घटना को अंजाम दिया है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static