UP में थमी कोरोना की रफ्तार, 67 संक्रमित मामलों के बीच 226 हुए ठीक

2/17/2021 7:17:14 PM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना से संक्रमित 67 नये मामले आये हैं जबकि 226 मरीज ठीक हुए हैं। राज्य के सूचना विभाग के अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने आज यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में कल एक दिन में 1,23,069 सैम्पल की जांच की गयी और 67 नये मामले आये। राज्य में अब तक 2,99,16,634 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 226 तथा अब तक 5,91,013 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,85,284 क्षेत्रों में 5,11,402 टीम दिवस के माध्यम से 3,14,63,035 घरों के 15,27,90,861 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। 

सहगल ने कहा कि कोरोना का संक्रमण कम हुआ है लेकिन अभी समाप्त नहीं हुआ है। इसलिए सभी नागरिक कोविड प्रोटोकॉल का पालन अवश्य करे। उन्होंने बताया कि युवाओं के लिए प्रदेश में मिशन रोजगार चलाया जा रहा है। प्रदेश सरकार युवाओं को सरकारी नौकरी, रोजगार, स्वरोजगार, कौशल प्रशिक्षण के माध्यम से रोजगार उपलब्ध कराने की मुहिम चला रही है। उन्होंने बताया कि सभी आयोगों, विभागों, निगमों, परिषदों की रिक्तियों को भरने के लिए प्रक्रिया की जा रही है।       

उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार किसानों के हितों के लिए कृतसंकल्प है और किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उनकी फसल को खरीदे जाने की प्रक्रिया तेजी से चल रही है। जिसके क्रम में प्रदेश सरकार द्वारा अभी तक 657.90 लाख कुन्तल धान किसानों से खरीदा गया है, जो पिछले वर्ष से लगभग डेढ़ गुना अधिक है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि जिलाधिकारी की यह जिम्मेदारी है कि किसानों को किसी प्रकार की समस्या न हो तथा क्रय केन्द्र सुचारू रूप से कार्य करे।

नवनीत सहगल ने बताया कि किसी भी प्रकार की अधिकारियो/ कर्मचारियों द्वारा लापरवाही बरती जाती है तो उनके विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। धान क्रय केन्द्र पर शिकायत मिलने पर जिलाधिकारी की जिम्मेदारी होगी। धान क्रय केन्द्रों पर जिलाधिकारी द्वारा निरन्तर सत्यापन अनुश्रवण तथा आकस्मिक निरीक्षण करे। उन्होंने बताया कि गेहूँ की खरीद किए जाने के लिए प्रदेश में 6000 क्रय केन्द्र खोले जाने की तैयारी की जा रही है।


Content Writer

Umakant yadav

Related News