भीम आर्मी व अस्पा कार्यकर्ता पर हुए लाठीचार्ज की कार्रवाई निंदनीय: सतपाल चौधरी

punjabkesari.in Friday, Dec 11, 2020 - 05:03 PM (IST)

गाजियाबाद: किसान आंदोलन का समर्थन करने पर भीम आर्मी व अस्पा कार्यकर्ता पर हुए लाठीचार्ज की घटना की सतपाल चौधरी कड़ी निंदा की है। उन्होंने कहा कि गाजियाबाद में स्थित एक प्रशासनिक अधिकारी के द्वारा लाठीचार्ज किया गया जिसमें आजाद समाज पार्टी के 4 साथी गंभीर रूप से घायल हुए। सात लोगों को गिरफ्तार करके डिटेन करने के बजाय मुकदमा लिख दिया गया। सतपाल चौधरी ने बताया की भीम आर्मी और आज़ाद समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं पर इस तरीके की कार्रवाई को दुर्भाग्यपूर्ण है ।
PunjabKesari
बता दें आर्मी व आज़ाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद के द्वारा आंदोलन को पूरी तरीके से समर्थन देने पर वह जहां-जहां धरना प्रदर्शन किसान दे रहे हैं। सभी जगह को अपने कार्यकर्ताओं के द्वारा किसान आंदोलन को मजबूत करने का कार्य किया जा रहा है। वहीं सतपाल चौधरी ने बताया कि सिंधु बॉर्डर पर किसान नेता गुरनाम सिंह से वार्ता करने के बाद ही चंद्रशेखर ने किसान मजदूर एकता के किसान आंदोलन को समर्थन दिया था। उन्होंने कहा कि भीमअर्मी के कार्यकताओं पर जो फर्जी तरीके से जो कार्रवाई की गई है वह निन्दनी है। उन्होंने कहा कि सरकार से मेरी अपील है कि जो कार्यकताओं पर मुकदमा दर्ज किया गया है उसे तरंत वापस ले।  
PunjabKesari
गौरतलब है कि बीते कुछ दिन पहले ही चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण यूपी गेट पर किसान आंदोलन के समर्थन में उतरे थे जिसके बाद लगातार आज़ाद समाज पार्टी में भीम आर्मी के कार्यकर्ता यूपी बॉर्डर में सिंधु बॉर्डर पर अपना डेरा जमाए हुए थे। जिसको लेकर आंदोलन के अंदर लाठी चार्ज भी कार्यकर्ताओं के ऊपर हुआ था जिस से आहत होकर आज आज़ाद समाज पार्टी के प्रवक्ता सतपाल चौधरी के द्वारा एक प्रेस वार्ता का आयोजन करके अपना विरोध दर्ज कराई है। उन्होंने सरकार की मानसिकता के ऊपर आरोप गंभीर आरोप लगाए गए हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Ramkesh

Related News

Recommended News

static