महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती की हत्या करने की फिराक में पहुंचे दो युवक मंदिर, गिरफ्तार

punjabkesari.in Thursday, Jun 03, 2021 - 12:32 PM (IST)

गाजियाबाद: उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जनपद में स्थित डासना देवी मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती की हत्या करने की फिराक में पहुंचे दो आरोपियों को मंदिर परिसर से सेवादार ने पकड़ लिया है। बाद में उन्हे पुलिस के हवाले कर दिया गया।  सेवादार के मुताबिक दो युवक संदिग्ध हालत में मंदिर परिसर में घुस गये। इस पर उन्हे उन पर सक हुआ। उनककी तलाशी ली गई। उनके पास से तीन सर्जिकल ब्लेड व कुछ आपत्तिजनक दवाएं बरामद हुई। फिलहाल पुलिस ने इस आरोपियों से पूछताछ कर मामले जांच में जुट गई है।

पुलिस सूत्रों ने बताया गेट पर रखे रजिस्टर में आरोपियों ने अपनी एंट्री डॉ. विपुल विजय वर्गीय नागपुर व दूसरे ने काशी गुप्ता के नाम से कराई। मौके पर महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती समय मंदिर में मौजूद नहीं थे। भीतर जाने पर सेवादारों को दोनों पर शक हुआ और उन्होंने दोनों के बैग की तलाशी ली। बैग में तीन सर्जिकल ब्लेड व आपत्तिजनक दवाएं थीं। इसके बाद सेवादारों ने पुलिस को फोन किया और दोनों संदिग्धों को पुलिस के हवाले कर दिया। इस मामले में महंत के करीबी अनिल यादव ने पुलिस को तहरीर दी है। एसपी देहात डॉ. इरज राजा ने बताया कि काशी गुप्ता के नाम से एंट्री कर मंदिर परिसर में घुसने वाले का असली नाम कासिफ है। दोनों से पूछताछ की जा रही है। बता दें कि इसके पहले भीडासना देवी मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती की हत्या की फिराक में आए आरोपियों को पुलिस ने पहले भी गिरफ्तार किया है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static