UP: समाधान दिवस पर SDM ने फरियादी से की बदसलूकी, सरेआम जड़ा थप्पड़...3 साल से चक्कर काट रहा था पीड़ित

punjabkesari.in Sunday, May 22, 2022 - 04:05 PM (IST)

फतेहपुर: यूपी के फतेहपुर में सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान अपनी समस्या की फरियाद लगाने आए एसडीएम ने फरियादी को थप्पड़ मार दिया, जिसके बाद पीड़ित ने जमकर हंगामा काटना शुरू कर दिया। जिसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है, वीडियो वायरल होने के बाद प्रसाशनिक महकमे में हड़कंप मच गया और इस मामले में कार्यवाहक डीएम ने मामले की जांच के बाद कार्यवाही करने की बात कही है।

जिले के खागा तहसील परिसर में आयोजित सम्पूर्ण समाधान में एक फरियादी अपनी फरियाद लेकर पूरे परिवार के साथ पहुंचा था और लगातार कई वर्षों से अपनी फरियाद अधिकारीयों के समक्ष रख रहा था, लेकिन काफी समय बीत जाने के बाद भी जब उसकी समस्या का निवारण नहीं हो पाया तो उसने सम्पूर्ण समाधान दिवस में पहुंचकर हंगामा काटना शुरू कर दिया। जिसके बाद मौजूद एसडीएम ने फरियादी को तमाचा जड़ दिया और धक्का देकर उसे बाहर कर दिया। जिसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। 

बता दें कि पीड़ित संतोष कुमार गुप्ता निवासी राधानगर ने वर्ष 2017 खागा तहसील के छिवलहा कस्बे में एक जमींन खरीदी थी, लेकिन जमीन के दाखिल खारिज के नाम पर 2017 से अब तक तहसीलदार सहित कर्मचारियों ने 25 हजार रुपए का रिश्वत ले लिया, लेकिन उसके बाद भी उसकी जमीन का दाखिल खारिज नहीं किया। जिसकी शिकायत पीड़ित ने जिले के जिम्मेदार अधिकारीयों से की थी, लेकिन अब तक कोई सुनवाई नहीं हुई। जिसके बाद 21 मई को खागा तहसील सभागार में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में वह अपने परिवार सहित पहुंचकर अपनी फरियाद अधिकारीयों के समक्ष रखा, लेकिन अधिकारीयों ने कार्रवाई का आश्वाशन देकर उसे वापस जाने की बात कही, लेकिन अधिकारीयों द्वारा लगातार रटी रटाई बात से वह उत्तेजित हो गया और हंगामा काटना शुरू कर दिया। जिसके बाद मौके पर मौजूद एसडीएम ने उसे थप्पड़ मारकर उसे परिसर से धक्का मारकर बाहर दिया। जिसका वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद प्रसाशनिक महकमे में हड़कंप मच गया और इस मामले में कार्यवाहक डीएम व सीडीओ सत्यरक्ष ने पूरे मामले की जांच के बाद कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

पीड़ित संतोष गुप्ता ने बताया कि 2017 में खागा तहसील के छिवलहा कस्बे में उसने जमीन खरीदी थी, लेकिन उसके दाखिल ख़ारिज के नाम पर 2017 से अब तक तहसीलदार सहित तहसील कर्मचारियों ने 25 हजार रुपए की रिश्वत ले लिया, लेकिन उसके बाद भी दाखिल ख़ारिज नहीं किया। जिसकी शिकायत डीएम से भी की गई लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। जिसके बाद खागा तहसील में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में गए थे और अपनी फरियाद अधिकारीयों को सुनाया, लेकिन समाधान दिवस में बैठे एसडीएम अजय नारायण सिंह अपने चेयर से उठकर आए और उसके साथ मारपीट करते हुए उसे धक्का देकर परिसर से बाहर कर दिया। 


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static