वाराणसी: मणिकर्णिका घाट पर गैंगस्टर कन्हैया यादव ने किया बेटी का अंतिम संस्कार, पुलिस पर मार-पीट का आरोप

punjabkesari.in Monday, May 02, 2022 - 10:24 AM (IST)

चंदौली: वाराणसी के मणिकर्णिका घाट पर गैंगस्टर कन्हैया यादव ने अपनी बेटी का अंतिम संस्कार किया है। कन्हैया यादव ने अपने बेटी को मुखाग्नि दी। दरअसल जब पुलिस (Police) की टीम गैंगस्टर कन्हैया यादव के घर दबिश देने के लिए पहुंची तो संदिग्ध हालात में उसकी एक बेटी की मौत हो गई और दूसरी घायल हो गई। इस मामले में सैयदराजा पुलिस स्टेशन के SHO उदय प्रताप सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है।
PunjabKesari
पुलिस पर आरोपियों की बेटियों से मारपीट का आरोप
आरोप है कि सैयदराजा पुलिस स्टेशन के SHO उदय प्रताप सिंह ने गैंगस्टर कन्हैया यादव की बेटी गुड़िया के साथ मार-पीट की, जिसकी वजह से उसकी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। कन्हैया की दूसरी बेटी को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। वारदात के बाद से इलाके में तनाव है। दरअसल, यहां गैंगस्टर के अपराधी के घर पुलिस की दबिश के बाद संदिग्ध परिस्थितियों में एक युवती की मौत के बाद घमासान मच गया। मौत से आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क जाम किया। मौके पर पहुंची पुलिस पर ग्रामीणों द्वारा हमला किया गया। जिसमें 2 पुलिसकर्मी घायल हो गए और साथ ही पुलिस की गाड़ी भी तोड़ दी गई। 
PunjabKesari
मामले में सैयदराजा थानाध्यक्ष को किया निलंबित 
मामले के तूल पकड़ते ही मौके पर डीएम एसपी और वाराणसी के कमिश्नर और आईजी मौके पर पहुंच गए और मामले को संभालने में लग गए। मामले में परिजनों की तहरीर लेकर सैयदराजा थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया गया और युवती के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के जिला अस्पताल लिए भेज दिया गया। जबकि घायल युवती को इलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा गया। इस दौरान सपा के विधायक प्रभु नारायण सिंह यादव के नेतृत्व में पीड़िता के घर के बाहर बड़ी संख्या में सपा कार्यकर्ता धरने पर बैठ गए।
PunjabKesari
बता दें कि सैयदराजा थाना क्षेत्र के मनराजपुर गांव में गैंगस्टर के आरोपी कन्हैया यादव का घर है। कन्हैया यादव पर जिला बदर की भी कार्रवाई हुई है। एक बलवा के मामले में पुलिस कोर्ट के एनबीडब्ल्यू वारंट को तामील कराने के लिए शनिवार की शाम 4:00 बजे कन्हैया यादव के घर पहुंची। हालांकि आरोपी कन्हैया घर पर नहीं मिला। घर में उस दौरान दो युवतियां ही मौजद थी। पुलिस वहां से लौट आई लेकिन कुछ देर बाद जानकारी सामने आई की आरोपी कन्हैया यादव की बड़ी बेटी 22 वर्षीय गुड़िया की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई और उनकी छोटी बेटी घायल हो गई।
PunjabKesari
आरोप यह लगाया गया कि पुलिस द्वारा दबिश के दौरान दोनो युवतियों से मारपीट की गई। जिससे गुड़िया की मौत हो गयी। मामले की जानकारी होते हैं स्थानीय लोग आक्रोशित हो गए और सैयदराजा जमानिया मार्ग जाम कर दिया । सड़क जाम होने की सूचना मिलते ही डायल 112 के पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे। जहां आक्रोशित लोगों ने पुलिसकर्मियों पर हमला बोल दिया और दोनों पुलिसकर्मियों को बुरी तरह पीटा जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए। यही नहीं आक्रोशित लोगों ने पुलिस की बाइक को भी क्षतिग्रस्त कर दिया । इस दौरान मामले ने राजनीतिक रंग ले लिया और तुल भी पकड़ लिया।

घटना को लेकर सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज काका ने वायरल वीडियो को ट्वीट कर दिया जिस सपा के सकलडीहा विधायक प्रभु नारायण सिंह यादव पूर्व सपा सांसद रामकिशुन और सपा जिला अध्यक्ष सतना राजभर के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ता मनराजपुर गांव पहुंचे और मृतिका घर के बाहर धरने बैठ गए। इस दौरान बेटी की मौत की खबर मिलते ही आरोपी कन्हैया यादव भी मनराजपुर अपने घर पहुंचे। घटना की गंभीरता को देखते हुए जिलाधिकारी संजीव सिंह पुलिस अधीक्षक अंकुर अग्रवाल भारी संख्या में पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे । इस दौरान मामले के राजनीतिक रंग देने के बाद शासन के निर्देश पर कमिश्नर वाराणसी दीपक अग्रवाल और आईजी जोन वाराणसी के सतनारायण मनराजपुर गावँ पहुंचे।

मृतिका के परिजनों की मांग थी कि पुलिस कर्मियों पर मुकदमा दर्ज किया जाए। मौके पर पहुचे आलाधिकारियों ने परिजनों से बात की तो परिजनों ने सैयदराजा थानाध्यक्ष उदय प्रताप सिंह को निलंबित करने की मांग की और निष्पक्ष जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई किये जाने की मांग की ।मृतका के परिजनों की मांग को मानते हुए सैयदराजा थाना अध्यक्ष उदय प्रताप सिंह को निलंबित कर दिया गया और मामले में निष्पक्ष जांच का आश्वासन अधिकारियों द्वारा मृतका के परिजनों दिया गया। हालांकि दोनों गंभीर पुलिसकर्मियों को बेहतर इलाज के लिए जिला अस्पताल चंदौली से वाराणसी ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static