UP Election 2022: जब बेटे अखिलेश के लिए वोट मांगना भूल गए मुलायम, कान में कहना पड़ा- वोट मांगिए

punjabkesari.in Thursday, Feb 17, 2022 - 06:13 PM (IST)

मैनपुरी: उत्तर प्रदेश में पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ रहे समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव के लिये वोट की अपील करने उनके पिता एवं पार्टी संस्थापक मुलायम सिंह यादव गुरूवार को मैनपुरी की करहल विधानसभा पहुंचे, जहां उन्होंने जनता को संबोधन किया। इस दौरान अखिलेश को जिताने के लिए जनता से वोट मांगना भूल गए तो उन्हें वोट मांगने के लिए याद दिलाना पड़ा। 
PunjabKesari
दरअसल, मुलायम ने यहां भारी जनसैलाब के बीच चुनावी सभा में कहा कि ‘‘सपा की नीतियां हैं कि किसानों को प्राथमिकता दी जाए, खाद बीज और सिंचाई का साधन उपलब्ध कराया जाए। पैदावार बढ़ेगी तो किसानों की हालत सुधरेगी। व्यापारियों को भी सुविधा दी जाए ताकि वह किसानों की पैदावार खरीदे। लाखों नौजवानों को नौकरी-रोजगार दिलाने की जरूरत है। किसान नौजवान और व्यापारी ये तीन मिलकर ही देश को मजबूत बनाएंगे।'' मुलायम सिंह यादव का पूरा भाषण किसानों, व्यापारियों और नौजवानों पर केंद्रित रहा। उन्होंने कई बार दोहराया कि सपा सरकार इनके लिए काम करेगी, क्योंकि इनकी खुशहाली से ही देश मजबूत होगा। जनता को आभार जताते हुए मुलायम अपने भाषण को खत्म करने की ओर बढ़ने लगे तो पास में ही खड़े सांसद धर्मेंद्र यादव ने पर्ची पकड़ाते हुए उनके कान में कहा, वोट मांगिए। यह सुनकर खुद मुलायम और आसपास खड़े सभी लोग हंसने लगे। हालांकि, मुलायम सिंह एक पल के लिए करहल के प्रत्याशी और अपने बेटे अखिलेश का नाम भी भूल गए और कहा कि जो भी यहां उम्मीदवार हैं, उन्हें जिता देना।
PunjabKesari
इस मौके पर अखिलेश ने भाजपा प्रत्याशी एसपी सिंह बघेल पर निशाना साधते हुये कहा ‘‘ विरोधी के पास वोट नहीं है। वह सब दलों में घूम कर आया है और अब शायद सपा से नजदीकियां बढाना चाहता है। संबंध बनाने में करहल में आया है। जब आपके पास आयें चारपाई बिछा देना और पूछना वादों का कया हुआ। दिल्ली के मंत्री है तो इन्होने पिछडो दलितों के सम्मान के लिये क्या किया। सपा सरकार आने पर जातीय जनगणना करायेंगे और सम्मान दिलायेंगे।''


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Imran

Related News

Recommended News

static