बाराबंकी: तहसील परिसर की दीवार पर लिख दिया ''SDM चोर घूसखोर मुर्दाबाद'', पुलिस ने आनन-फानन में हटवाया

punjabkesari.in Sunday, Apr 17, 2022 - 11:50 AM (IST)

बाराबंकी: यूपी के बाराबंकी जिले के रामनगर तहसील परिसर के गेट पर किसी अज्ञात व्यक्ति ने बड़े-बड़े अक्षरों में 'एसडीएम चोर, मुर्दाबाद व घूसखोर' लिखकर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए हैं। ऐसे शब्द तहसील परिसर की दीवारों पर लिखे होने से अफसरों में हड़कंप मच गया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दीवारों पर लिखे शब्दों को हटवाया। मामला एसडीएम के संज्ञान में आने के बाद पुलिस को मामले की जांच कर कार्रवाई के लिए निर्देशित किया है।

बता दें कि जिले की रामनगर तहसील में किसी अज्ञात व्यक्ति ने यहां के एसडीएम केडी शर्मा पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए तहसील परिसर के गेट और दीवारों पर नीले रंग से एसडीएम घूसखोर, चोर और मुर्दाबाद लिखकर विरोध जताया। दीवारों पर लिखे गए विरोध की भनक पुलिस को नहीं लग सकी। तहसील दिवस के बाद परिसर की दीवारों में लिखे गए एसडीएम के विरोध को पुलिस ने आनन-फानन में हटवाकर जांच में जुट गई है।

एसडीएम केडी शर्मा के अनुसार, पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष राम शरण पाठक के खिलाफ जारी आरसी के मामले में 10 लाख रुपये रिकवरी के लिए 13 अप्रैल को उनके आवास गए थे। संतोषजनक जवाब न देने पर एसडीएम केडी शर्मा ने पुलिस फोर्स के साथ पूछताछ के लिए उन्हें थाने ले आए थे। एसडीएम से काफी नोकझोंक के बाद पूर्व चेयरमैन रामशरण पाठक ने हाई कोर्ट का स्टे आर्डर दिखाया था। जिस पर उन्हें थाने से छोड़ा गया था। एसडीएम के रवैए से नाराज पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष रामशरण पाठक ने एसडीएम केडी शर्मा पर तहसील क्षेत्र में अवैध निर्माण करवाने और धन वसूली के आरोप लगाते हुए बयान जारी कर पूरे विधानसभा में भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन की चेतावनी दी थी।

एसडीएम ने बताया कि शनिवार तहसील दिवस पर आए फरियादियों की समस्याएं सुनी जा रही थीं। बाहर दीवारों पर कौन लिख गया, इसकी जानकारी नहीं है। फिलहाल सूचना मिली है कि रामनगर पुलिस को जांच कर कार्रवाई के लिए निर्देशित किया है।


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static