वेतन कटौती के विरोध में भूख हड़ताल पर बैठे एम्बुलेंस संचालक कर्मचारी, सेवाएं की ठप

6/29/2020 5:20:50 PM

बाराबंकीः बाराबंकी में वेतन कटौती के विरोध में प्रदेश भर में एम्बुलेंस संचालक कर्मचारी भूख हड़ताल पर बैठ गए है। कोरोना संक्रमण के बीच प्रदेश में 102, 108 एम्बुलेंस सेवाएं बंद कर लगभग 19 हजार एम्बुलेंस संचालक व कर्मचारियों ने भूख हड़ताल शुरू कर दी है। कर्मचारियों का आरोप है कि प्रदेश में जी.वी.के कम्पनी द्वारा लगतार आर्थिक शोषण किया जा रहा है। समय पर वेतन न दिए जाने के साथ 17 हजार की जगह 11 हजार रुपए ही दिए जा रहे हैं। जिसको लेकर प्रदेश में कर्मचारी व चालक ने कंपनी के खिलाफ आक्रोश से सारी सेवाएं बन्द कर दी है।

एम्बुलेंस चालक का कहना है कि पूर्व में कर्मचारियों और श्रमविभाग द्वारा समझौते के बावजूद कोई निस्तारण नहीं हुआ और एक बार फिर एम्बुलेंस कर्मचारी हड़ताल करने को मजबूर हुए है। कर्मचारियों ने जी.वी.के कंपनी के खिलाफ प्रदेश सरकार से हस्तक्षेप कर न्याय दिलाने की मांग की है। वहीं कंपनी के प्रोग्राम मैनेजर का कहना है कि कर्मचारियों की सैलरी में कोई कटौती नही की जा रही है। वेतन को लेकर उनका एचआर विभाग तय करेगा।
 


Tamanna Bhardwaj

Related News