तैयार हुआ Bundelkhand Expressway! अब 7 घंटे में चित्रकूट से पहुंचेंगे दिल्ली, इस दिन उद्घाटन करेंगे PM मोदी

punjabkesari.in Wednesday, Jun 29, 2022 - 02:10 PM (IST)

लखनऊ: बुंदेलखंड क्षेत्र के लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी है। दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 13 जुलाई को बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे को जनता के लिए समर्पित करेंगे। पीएम जालौन से इस एक्सप्रेस-वे का लोकार्पण करेंगे। इसके लिए उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवेज औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीडा) ने तैयारियां प्रारंभ कर दी हैं।खास बात ये है कि बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे पर लोग चित्रकूट से दिल्ली का सफर मात्र सात घंटे में कर सकेंगे। इस प्रोजेक्ट से बुंदेलखंड को लोगों को बहुत उम्मीदे हैं। 

बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे पर हरे-भरे पेड़ों की छाया में होगा सफर
बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे पर चित्रकूट से दिल्ली सात घंटे का सफर हरे-भरे पेड़ों की छाया में होगा। 296 किलोमीटर लंबे एक्सप्रेसवे को ‘ग्रीन बेल्ट’ बनाया जा रहा है। पूरे एक्सप्रेसवे पर 13 लाख 79 हजार पेड़-पौधे लगाने की तैयारी है। यानी हर किलोमीटर पर औसतन 4658 पौधे लगेंगे। एक्सप्रेसवे निर्माण कराने वाली कार्यदायी संस्था यूपीडा ने यही दावा किया है। यह एक्सप्रेसवे बुंदेलखंड क्षेत्र को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे और यमुना एक्सप्रेस-वे के माध्यम से जोड़ेगा और साथ ही, बुंदेलखंड क्षेत्र के विकास में अहम भूमिका निभाएगा। 

इन जिलों से होकर गुजरेगा बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे
बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे चित्रकूट में झांसी-प्रयागराज राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-35 में भरतकूप के पास से शुरू होकर आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर जिला इटावा में कुदरैल गांव के पास खत्म होगा। इस एक्सप्रेसवे की कुल लंबाई 296 किम होगी। बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे, चित्रकूट, बांदा, महोबा, हमीरपुर, जालौन, औरैया और इटावा जिले से होकर गुजरेगा। बताया जा रहा है कि इस एक्सप्रेस वे का 97% काम खत्म हो चुका है और बाकी तीन फीसदी को भी 5 जुलाई तक पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं। 

7 जिलों के 200 गांवों के लोगों को होगा फायदा 
इस प्रोजेक्ट से 7 जिलों के 200 गांवों के लोगों को फायदा होगा। यह एक्सप्रेसवे 04 लेन पर बन रहा है जिसे बाद में 06 लेन तक विस्तारित किया जा सकेगा। प्रोजेक्ट के आरओडब्ल्यू (राईट ऑफ वे) की चौड़ाई 110 मीटर है। इस एक्सप्रेस-वे पर सर्विस रोड के साथ-साथ अंडरपास भी बनाए गए हैं ताकि आसपास के गांवों के निवासियों को सुगम परिवहन सुविधा मिल सके। 

एक्सप्रेस वे में होंगे 18 फ्लाई ओवर 
इस प्रोजेक्ट क संरेखण पर बागेन, केन, श्यामा, चंदावल, बिरमा, यमुना, बेतवा और सेंगर, ये 7 नदियां होंगी। एक्सप्रेस-वे पर कुल 04 रेलवे ओवर ब्रिज, 14 बड़े ब्रिज, 06 टोल प्लाजा, 07 रैम्प प्लाजा, 266 छोटे ब्रिज और 18 फ्लाई ओवर भी बनाए जाएंगे। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static