ग्रामीण युवाओं के विकास को लेकर बोले CM योगी- मुख्य धारा में शामिल करने के लिये कटिबद्ध है सरकार

7/20/2021 12:25:15 PM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उनकी सरकार ग्रामीण युवाओं का सर्वांगीण विकास कर उन्हें राष्ट्र के विकास की मुख्यधारा में शामिल करने के लिये प्रतिबद्ध है। ग्रामीण युवाओं को प्रशिक्षण देने और ग्रामीण क्षेत्रों में खेलकूद को बढ़ावा देने में प्रान्तीय रक्षक दल (पीआरडी) की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। ग्रामीण युवाओं को सही मार्गदर्शन की आवश्यकता है, इससे वे तेजी से आगे बढ़ेंगे।

सीएम योगी ने सोमवार को अपने सरकारी आवास पर 508 क्षेत्रीय युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल अधिकारियों तथा 26 व्यायाम प्रशिक्षकों को नियुक्ति पत्र वितरित करने के अवसर पर कहा कि पिछले सवा चार वर्षों में सवा चार लाख युवाओं को सरकारी नौकरियों उपलब्ध करायी गयी हैं। सरकारी भर्तियों में निष्पक्षता एवं पारदर्शिता का पूरा ध्यान रखा गया है। इससे योग्य अभ्यर्थियों का ही चयन सम्भव हुआ है। इसके अलावा, प्रदेश में आने वाले निवेश के माध्यम से 1.61 करोड़ युवाओं को निजी क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध कराया गया है। साथ ही 60 लाख से अधिक युवाओं को स्वरोजगार से भी जोड़ा गया है। सरकार प्रदेश के युवाओं के बेहतर भविष्य के लिए सतत प्रयास कर रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘खेलो इण्डिया' के तहत ग्रामीण युवाओं को खेल के प्रति जागरूक करने के लिए कार्यक्रम तो चलते थे, लेकिन खेल सामग्री की कमी थी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंशा के अनुरूप प्रदेश में अब तक 55 हजार से अधिक मंगल दलों को खेल सामग्री वितरित की गयी है। ग्रामीण क्षेत्रों में खेल स्टेडियम निर्माण की प्रक्रिया को युद्धस्तर पर आगे बढ़ाया गया, जिसके परिणामस्वरूप आज युवक मंगल दल एवं महिला मंगल दलों में भी खेलकूद की गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए एक नई प्रतिस्पर्धा देखने को मिल रही है। उन्होंने कहा कि प्रादेशिक विकास दल के़े प्रशिक्षित अधिकारियों का मार्गदर्शन प्राप्त होने से ग्रामीण युवाओं को आगे बढ़ने का अवसर प्राप्त होगा। ग्राम पंचायतों को अपने क्षेत्रों में खेल के प्रति प्राथमिकता तय करने के लिए कहा गया है। नवनिर्वाचित पंचायत से जुड़े सभी जनप्रतिनिधियों के कार्यों से अनेक खेल प्रतिभाएं गांवों से निकलकर देश-दुनिया में अपनी प्रतिभा से धूम मचाने में सफल हो सकती हैं।       


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Moulshree Tripathi

Recommended News

static