खेती-किसानी की रक्षा के लिए गांव-गांव में गठित हों संघर्ष समितियां: चौधरी

punjabkesari.in Wednesday, Dec 23, 2020 - 04:17 PM (IST)

बलिया: नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन के बीच उत्तर प्रदेश विधानसभा में सपा और विपक्ष के नेता रामगोविंद चौधरी ने खेती-किसानी की रक्षा के लिए गांव-गांव में संघर्ष समितियों के गठन की अपील की है।

चौधरी ने बुधवार को भूतपूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की जयंती के अवसर पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए एक कार्यक्रम में कहा, "लोकतंत्र और समाजवाद में विश्वास रखने वाले देश के सभी लोगों से अपील है कि वे खेती किसानी की रक्षा के लिए गांव-गांव में खेती बचाओ संघर्ष समितियों का गठन करें और किसान आंदोलन के साथ तन, मन, धन से जुड़ें, नहीं तो इस लड़ाई में किसान कमजोर पड़ जाएंगे।"

उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम हो या तानाशाही से मुक्ति का संग्राम, इसमें ''बागी'' बलिया और समाजवादियों की अग्रणी भूमिका रही है। कॉरपोरेट बनाम किसान के इस संघर्ष में भी बलिया और समाजवादियों को आगे आना चाहिए।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static