कांग्रेस नेता राशिद अल्वी के विवादित बयान पर मचा बवाल, राम भक्तों को बताया 'राक्षस'...BJP भड़की

punjabkesari.in Friday, Nov 12, 2021 - 03:53 PM (IST)

बदायूं: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राशिद अल्वी के इस बयान से विवाद उत्पन्न हो गया है कि ‘जय श्री राम' का नारा लगाने वाले सभी लोग 'मुनि' नहीं हैं और ऐसे लोगों से होशियार रहने की जरूरत है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने इस बयान को लेकर उनकी कड़ी आलोचना की है। अल्वी ने बृहस्पतिवार रात यहां कल्कि महोत्सव में रामायण का हवाला देते हुए कहा, "आज कई लोग हैं जो 'जय श्री राम' का नारा लगाते हैं, लेकिन वे सभी मुनि नहीं हैं और इनसे होशियार रहने की जरूरत है।'' 

कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘हमें देश में ऐसा माहौल बनाना है जिसका जिक्र राम राज्य में किया गया है जहां नफरत की कोई जगह नहीं है, जहां बकरी और शेर एक जगह पर पानी पीते हैं। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो 'जय श्री राम' का नारा लगाकर लोगों को गुमराह करते हैं। ऐसे लोगों से हमें होशियार रहना चाहिए।'' उन्होंने कहा, ‘‘जब लक्ष्मण जी की हालत खराब (मूर्च्छा) होती है और कहा जाता है कि संजीवनी बूटी सूरज निकलने से पहले आनी चाहिए वरना जिंदगी बचनी मुश्किल है, तो हनुमान जी की जिम्मेदारी लगाई जाती है कि जाइए संजीवनी बूटी लेकर आइए...। 

उधर, रावण एक राक्षस को संत बनाकर भेज देता है, एक मगरमच्छ हनुमान जी के पांव पकड़ लेता है। उसे किसी ने श्राप दिया था जो एक अप्सरा थी। वह हनुमान जी से कहती है कि हनुमान क्यों वक्त खराब कर रहे हो तुम्हें तो सूरज निकलने से पहले संजीवनी बूटी लेकर जानी है। यह जो सामने बैठा है और ‘जय श्री राम' कह रहा है, वह मुनि नहीं, घोर राक्षस है।'' अल्वी के बयान की भाजपा नेता अमित मालवीय ने तीखी आलोचना की है। उन्होंने अल्वी की वीडियो क्लिप पोस्ट करते हुए ट्वीट किया, "सलमान खुर्शीद के बाद अब कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ‘जय श्री राम' कहने वालों को (निशाचर) राक्षस कह रहे हैं। रामभक्तों के प्रति कांग्रेस के विचारों में कितना जहर घुला हुआ है।'' 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static