UP Chunav 2022: PM मोदी का किसानों से वादा- छुट्टा जानवरों की समस्या से 10 मार्च के बाद मिलेगी मुक्ति

punjabkesari.in Tuesday, Feb 22, 2022 - 08:38 PM (IST)

बहराइच: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उत्तर प्रदेश में छुट्टा जानवरों से किसानों को हो रही भारी परेशानी का मुद्दा विधानसभा चुनाव में व्यापक रूप से उठाये जाने के बाद भरोसा दिलाया है कि सरकार इस परेशानी पर गंभीर है और इसका समाधान भी खोज लिया गया है, जिसे 10 मार्च को चुनाव आचार संहिता हटने के बाद लागू कर दिया जायेगा।       

मोदी ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश में बहराइच के पयागपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश के किसानों को आवारा पशुओं की समस्या से जल्द निजात मिल जायेगा। उन्होंने कहा कि सरकार किसानों की इस परेशानी को समझती है और इसके उपाय भी तलाश लिये गये हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 10 मार्च के बाद फिर से योगी सरकार बनने पर इन उपायों को लागू कर दिया जायेगा।        उन्होंने कहा, ‘‘यूपी के किसानों को छुट्टा जानवरों से हो रही दिक्कतों को हम गंभीरता से ले रहे हैं। हमने रास्ते खोजे हैं और मैं आपकी इस चिंता को पूरी तरह समझता हूं और आपको बताता हूं कि मैं रास्ता खोजकर लाया हूं।''       

उन्होंने विपक्षी दलों समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और कांग्रेस को परिवारवादी करार देते हुए कहा, ‘‘आज ये परिवारवादी लोग किसानों की भी बातें करने लगे हैं, उन्हें लेकर बड़े-बड़े दावे किए जा रहे हैं। ये वो लोग हैं जिन्होंने उत्तर प्रदेश में दर्जनों चीनी मिलें बंद करवा दी। ये वो लोग हैं जिन्होंने यूरिया और खाद के लिए किसानों पर डंडे चलवाये।'' उन्होंने किसानों के लिये विपक्षी दलों के लोक लुभावन चुनावी वादों को खोखला भी बताया। मोदी ने विपक्ष पर तंज कसते हुए कहा, ‘‘ये वो लोग हैं जो किसान को गन्ने की पर्ची के लिए तरसा देते थे। पिछली सरकार के समय बहराइच के 75 हजार किसानों को ही सरकारी खरीद का लाभ मिल पाया था। जबकि हमारी सरकार ने सिफर् बहराइच में 2 लाख किसानों से सरकारी खरीद की है।       

मोदी ने युवाओं को रोजगार देने के सपा, बसपा और कांग्रेस के चुनावी वादों पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘‘आज कल ये लोग नौकरी को लेकर बड़े-बड़े दावे कर रहे हैं। इनकी सच्चाई मैं आज आपको बताना चाहता हूं। यूपी में योगी जी ने करीब पांच लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दी। जबकि योगी जी के आने से पहले 10 साल तक जो सरकारें चली उन्होंने 10 साल में सिफर् 2 लाख लोगों को ही नौकरी दी थी।''


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static