पिता इस्लामिया मदरसे में बच्चों को देते हैं तालीम, फिर बेटा कैस बन गया आतंकवादी!

punjabkesari.in Sunday, Aug 14, 2022 - 03:11 PM (IST)

फतेहपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले से गिरफ्तार आतंकवादी हबीबुल सैफुल्ला के बारे एटीएस जानकारी जुटा रही है। हबीबुल इस्लाम फतेहपुर जिले के कोतवाली थाना क्षेत्र के सैय़यदबाड़ा में रहता था, आरोपी के पिता ने बताया कि हबीबुल सैफुल्ला पहले इटावा जिले में हाफिज की पढ़ाई कर रहा था। पढ़ाई पूरा करने के दो साल बाद गुजरात के बरूच जिले में आलिम की पढ़ाई किया। परिवार मूल रुप से परिवार बिहार का रहने वाला है। लेकिन पूरा परिवार 25 सालों से फतेहपुर के सैय्यद वाड़ा में रह रहा है। हबीबुल के पिता ने बताया कि  हमे पुलिस ने फोन के माध्यम से बताया कि आप का बेट देश द्रोह के मामले में गिरफ्तार किया गया है।

पढ़ाई छोड़ने के बाद दो साल से बाहर रह रहा था  हबीबुल
उन्होंने बताया कि बेटे पढ़ाई छोड़ने के बाद दो साल से बाहर रह रहा था। उसकी गतिविधि के बारे में हमे कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा कि तीन दिन से लापता था सभी सगें संबंधियों इस बारे में जानाकी ली जा रही थी। लेकिन आज सुबह लखनऊ पुलिस ने फोन करके गिरफ्तारी के बारे में जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि पढ़ाई न करने की वजह से उसे घर से निकाल दिया था। कभी कभी घर आता था। लेकिन घर पर इस तहर की गतिविधि के बारे में कोई जानकारी हम लोगों को नहीं है। हबीबुल सैफुल्ला के चार भाई है।  पिता जफरुल इस्लाम इस्लामिया मदरसे में बच्चों को तालीम देते हैं उसके बाद भी बेटा आतंकवादी बन गया। बेटे की करतूत से परेशान पिता ने 29 मई 2022 में घर से निकाल दिया था कभी-कभी आरोपी घर पर आता था।

समूहों में जिहादी वीडियो भेजता था सैफुल्ला
एटीएस के अनुसार, हबीबुल इस्लाम उर्फ सैफुल्ला वर्चुअल आईडी बनाने में माहिर था और उसने नदीम के साथ-साथ पाकिस्तान और अफगानिस्तान में आतंकवादियों को लगभग 50 वर्चुअल आईडी बनाकर दी हैं। वह टेलीग्राम, व्हाट्सएप और फेसबुक मैसेंजर जैसे विभिन्न सोशल मीडिया (प्लेटफॉर्म) के जरिए पाकिस्तान और अफगानिस्तान में आतंकी नेटवर्क से जुड़ा था। हबीबुल वर्चुअल आईडी के माध्यम से विभिन्न समूहों से जुड़ा हुआ था और समूह के अन्य सदस्यों को वर्चुअल आईडी भी प्रदान करता था। बयान के अनुसार, इन समूहों पर जिहादी वीडियो भेजे जा रहे थे। वह अन्य लोगों को जिहादी वीडियो भेजता था और उन्हें जिहाद के लिए प्रेरित करता था। जैश-ए-मोहम्मद के पाकिस्तानी हैंडलर ने हबीबुल को जिहादी प्रशिक्षण लेने के लिए पाकिस्तान आने और फिर भारत में जिहाद करने के लिए कहा था। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static