Jhansi: अब सरकारी रेस्ट हाउसों में मिलेंगे बुंदेली व्यंजन

punjabkesari.in Wednesday, Jun 29, 2022 - 08:01 PM (IST)

झांसी: उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र की सामाजिक सांस्कृतिक और ऐतिहासिक विरासत को लुप्त होने से बचाने के लिए लगातार क्रियाशील झांसी मंडलायुक्त डॉ़ अजय शंकर पांडेय की पहल पर अब मंडल के सभी सरकारी रेस्ट हाउसों में बुंदेली व्यंजनों की अनिवार्य रूप से उपलब्धता सुनिश्चित कराने का काम शुरू हो गया है।             

डॉ़ पांडेय ने कहा कि आधुनिकता की आंधी में नई पीढ़ी अपनी अनुपम विरासत को खो न दे इसके लिए इनका संरक्षण जरूरी है। बुन्देलखंड के क्षेत्रीय व्यंजन बहुत ही पौष्टिक व यहां की जलवायु के अनुरूप हैं इनकी वैज्ञानिक द्दष्टिकोण से भी उपयोगिता बहुत अधिक है परन्तु धीर-धीरे यहां के परंपरागत व्यंजन लुप्त होते जा रहे हैं। इन्ही को ध्यान में रखते हुए मंडलायुक्त ने झांसी मंडल के सभी सरकारी रेस्ट हाउस में बुंदेली व्यंजन की उपलब्धता सुनिश्चित करने की पहल की शुरूआत सकिर्ट हाउस झांसी से की। उन्होंने यह भी कहा कि बुंदेली व्यंजनों को व्यवस्थित तरीके से विकसित कर विश्व पटल पर रखे जाने के लिये रैसेपी बुक बनकर तैयार है जो शीघ्र ही उपलब्ध होगी इससे बुन्देली व्यंजनों को प्रचलन से बाहर व विलुप्त होने से बचाया जा सकेगा।       

आज मण्डलायुक्त ने मण्डल के सभी जिलाधिकारी/मुख्य विकास अधिकारियों की मण्डलीय समीक्षा बैठक बुलाई थी इस बैठक के अन्त में आये हुए अधिकारियों को बुन्देली व्यंजन परोसे गये।इस बैठक का संचालन करते हुए मंडलीय परियोजना प्रबंधक सिफ्सा आनंद चौबे ने बताया कि बुंदेली व्यंजनों के संरक्षण की दीर्घकालिक योजना पर भी कार्य हो रहा है जिसके तहत एक रैसेपी बुक का प्रकाशन, यू-ट्यूब चैनल व नयी पीढ़ी के युवाओं को बुंदेली व्यंजन बनाने का प्रशिक्षण दिये जाने की व्यवस्था की जा रही है।       

जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार ने कहा कि बुन्देली व्यंजन बहुत ही स्वादिष्ट हैं वे अपने स्तर से भी इन व्यंजनों के प्रचार-प्रसार हेतु पहल करेंगे। जिलाधिकारी ललितपुर ने बुंदेली व्यंजनों के प्रचार-प्रसार हेतु बुंदेली व्यंजन उत्सव आयोजित करने की बात कही। भविष्य में झाँसी मण्डल के सभी सरकारी रेस्ट हाउस में बुंदेली व्यंजन उपलब्ध होंगे ताकि बाहर से आने वाले महानुभावों को बुन्देली व्यंजन परोसे जा सकें। बुन्देली व्यंजन समिति के अध्यक्ष मुकुन्द मल्होत्रा ने बताया कि बुंदेलखण्ड में अनेक व्यंजन ऐसे है जो देश के किसी और क्षेत्र में नहीं मिलते।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static