Kushinagar: 4 साल की मासूम से महीने भर में दो बार बलात्कार, लोगों ने पंचायत कर थाने जाने से रोका

punjabkesari.in Friday, Mar 10, 2023 - 02:47 PM (IST)

कुशीनगर: उत्तर प्रदेश के कप्तानगंज थानाक्षेत्र में इंसानियत को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। यहां 4 साल की एक मासूम से पड़ोस के 16 वर्षीय युवक ने एक माह में दो बार दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। हद तो तब हो गई जब गांव के कुछ संभ्रांत लोग गरीब पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने की जगह आरोपी को बचाने के लिए पंचायत कर मामले की सुलह कराने में लगे थे। दूसरी बार की घटना के 4 दिन बाद लड़की के पिता ने पुलिस थाने में तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई है। जिसपर पुलिस ने दोनों पक्षों को थाने बुलाकर बातचीत और आगे की कार्यवाही की बात कह रही हैं।
PunjabKesari
जानकारी के मुताबिक बीते रविवार को कप्तानगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में 4 साल की मासूम के साथ दिन में ही पड़ोस के एक युवक ने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। पीड़ित मासूम की मां ने बताया कि उसकी बेटी घर पर खेल रही थी तभी पड़ोस का एक युवक बेटी को टॉफी खिलाने के बहाने अपने साथ लेकर चला गया। उस समय आरोपी के घर पर भी कोई नहीं था क्योंकि उसकी मां बकरी चराने गई हुई थी। इस मौके का फायदा उठाते हुए आरोपी ने मासूम को अपनी हवस का शिकार बनाया। जब बच्ची खून से लथपथ माँ के पास पहुंची तो माँ के होश उड़ गए। वहीं मासूम ने अपनी माँ से टूटी फूटी भाषा में अपनी आपबीती सुनाई।
PunjabKesari
पीड़िता की माँ ने बताया कि बच्ची को तड़पता देख माँ उसे लेकर पहले गाँव के डॉक्टर से इलाज कराया। मासूम की हालत में सुधार ना होता देख उसे लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मथौली (मोतीचक) पहुंची। लेकिन वहां मौजूद लोग छुट्टी होने का हवाला देकर बिना इलाज के लौटा दिया। जिसके बाद एक निजी अस्पताल में बच्ची का इलाज कराया गया। स्वास्थ विभाग पर लगे आरोप पर कुशीनगर जिले के मुख्य चिकित्साधिकारी सुरेश पटरियां ने पीड़िता की माँ के अरोपों को पहले सिरे से खारिज कर दिया और फिर मामले कि गम्भीरता को देखते हुए जांच करवाने की बात कही।
PunjabKesari
पीड़ित मासूम के पिता ने बताया कि मेरी शादी के पाँच साल बाद इकलौती बेटी हुई। जिसकी सलामती के लिए हम पूजा पाठ कराने की खातिर एक बकरा भी खरीदे हैं। लेकिन एक माह पहले मुझे चोट लग गयी। उसी समय आरोपी ने मेरी मासूम बेटी के साथ दुष्कर्म किया पर उस समय बेटी कुछ ज्यादा बता नहीं पा रही थी। हम लोग भी उसकी आधी अधूरी बात समझ न पाए। फिर गांव के कुछ लोग लोक लाज दिखाकर बच्ची का ईलाज आरोपी के परिजनों से करा मामला दबा दिए। मैं चोटिल था इसलिए कुछ कर न सका। एक माह में फिर आरोपी ने मेरी बेटी के साथ घिनौनी हरकत को अंजाम दिया। जिसकी जानकारी जब मुझे हुई तो गाँव के कुछ व्यक्ति मुझपर दबाव बनाकर मामले को सुलह कराने में लग गए। बच्ची के इलाज का खर्च आरोपी के परिजनों से दिलाने की बात कहने लगे जिसके बाद मैं न्याय के लिए कप्तानगंज थाने में तहरीर दिया हूँ ताकि इसे सजा मिल सके।

मासूम बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म के मामले पर पिता की तहरीर के बाद पुलिस गाँव पहुँची और पूछताछ की। वहीं तब तक आरोपी फरार हो गया था। मौके पर पहुंची पुलिस ने पीड़िता के परिजनों को आगे की कार्यवाही के लिए थाने बुलाया। इस मामले पर पुलिस अधीक्षक कुशीनगर धवल जैसवाल ने बताया की पीड़िता के पिता की तहरीर मिलने के बाद आज दोनों पक्षों को बुलाया गया। दोनों पक्ष थाने पहुंचे है आरोपी भी नाबालिग है। तहरीर के अनुसार मामले में आगे की कार्यवाही की जाएगी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static