महंत परमहंस दास आगरा में अनशन पर बैठे, पुलिस ने फिर से ताजमहल में प्रवेश करने से रोका

punjabkesari.in Tuesday, May 03, 2022 - 02:17 PM (IST)

आगरा: अयोध्या छावनी के तपस्वी महंत परमहंस दास ताजमहल में पूजा करने के लिए फिर से आगरा पहुंच गए हैं, हालाकि सुबह 11 बजे जैसे ही वह अपने शिष्यों के साथ रवाना हुए वैसे ही पुलिस ने उन्हें रोक लिया। पुलिस कह रही है कि वह उन्हें अपने साथ लेकर ताजमहल जाएगी, लेकिन परमहंस दास अकेले ताजमहल जाने पर अड़े हैं। महंत का कहना है कि ताजमहल तेजोमहालय है। वह वहां पूजा करना चाहते हैं। इतना हीं पुलिस के रोके जाने के बाद परमहंस अनशन पर बैठ गए है। 

बता दें कि इससे पहले महंत  26 अप्रैल को आगरा आए थे। तब उन्हें नियम के खिलाफ ताजमहल में जाने की कोशिश की थी, जिसके बाद वहां मौजूद सुरक्षाकर्मी ने उन्हें रोक दिया है। विरुद्ध प्रवेश से रोक दिया गया था। इस पर तपस्वी छावनी के महंत जगद्गुरु परमहंसाचार्य ने भगवा वस्त्र और धर्म दंड की वजह से ताजमहल में प्रवेश से रोके जाने का आरोप लगाया था। यह भी आरोप लगाया कि वहां मौजूद धर्म विशेष के लोगों के इशारे पर ताजमहल की सुरक्षा में तैनात सुरक्षा बलों ने उनके साथ बदसलूकी की। अनुयायी का मोबाइल छीन कर फोटो और वीडियो डिलीट करने का भी आरोप लगाया था। 

महंत के आरोपों पर भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के अधीक्षक पुरातत्वविद राजकुमार पटेल ने कहा था कि सुरक्षा जांच में महंत से धर्मदंड को लॉकर में रखने और लौटकर वापस लेने का आग्रह किया गया था, लेकिन उन्होंने स्वीकार नहीं किया। वह तुरंत वापस लौट गए थे। उनके वस्त्रों को लेकर कोई विवाद नहीं था। किसी भी रंग का कपड़ा पहनकर ताज में प्रवेश किया जा सकता है।

नियम के अनुसार ताजमहल के अंदर किसी भी प्रकार की धार्मिक और प्रमोशनल गतिविधि नहीं की जा सकती है। केवल शुक्रवार के दिन और ईद पर ही यहां स्थित मस्जिद में नमाज पढ़ी जाती है। शाहजहां के उर्स के तीन दिनों के दौरान यहां इबादत का दौर चलता है। मंगलवार को ईद पर दो घंटे के लिए प्रवेश निशुल्क रहा। सुबह साढ़े आठ बजे ताजमहल का शाही मस्जिद में मुस्लिम समाज के लोगों ने नमाज अदा की। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Imran

Related News

Recommended News

static