संजय सिंह का गंभीर आरोप: मायावती ने 1 राज्यसभा सीट के लिए दलितों का बीजेपी से सौदा कर लिया

10/28/2020 4:33:12 PM

लखनऊ (अजय कुमार): राज्‍यसभा की 10 सीटों के लिए होने जा रहे चुनाव के लिए भाजपा ने 8, सपा ने 1, बसपा ने 1 उम्‍मीदवारों का नामांकन पत्र दाखिल किया है। वहीं नामांकन के आखिरी समय में एक निर्दलीय उम्‍मीदवार प्रकाश बजाज ने अप्रत्‍याशित रूप से पर्चा दाखिल कर रोमांच बढ़ा दिया है। राजनीतिक विश्‍लेषकों का कहना है कि सपा ने लड़ाई को नया मोड़ दे दिया है और इससे बहुजन समाज पार्टी की राह में रोड़ा लग सकता है। खास बात ये है कि संख्याबल के हिसाब से भाजपा के पास 9 सांसद जिताने की क्षमता है। बावजूद इसके उसने 8 ही उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं। अपने 8 उम्मीदवार जिताने के बाद भी भाजपा के पास 18 विधायक शेष बच रहे हैं। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि भाजपा, बसपा प्रत्याशी को जिताने के लिए वोट करेगी। 

इसी को लेकर आम आदमी पार्टी और कांग्रेस ने बसपा सुप्रीमो मायावती पर गंभीर आरोप लगाए हैं। ‘आप’ के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने बसपा को भाजपा की सहायक पार्टी करार दिया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि मायावती ने एक राज्यसभा सीट के लिए दलितों पर हो रहे जुर्म का सौदा कर लिया है। 

संजय सिंह ने ट्वीट कर लिखा, ‘‘हाथरस कांड में बहन कु. मायावती जी की खामोशी से दलित समाज में भारी आक्रोश है वजह अब समझ में आई बहन जी ने BJP से एक राज्य सभा सीट लेकर जाटव बाल्मीकी सोनकर दलित समाज पर हो रहे जुर्म का सौदा कर लिया।
BSP मतलब 
B= BJP
S=सहायक 
P=पार्टी

PunjabKesari

भाजपा यूपी में 1 सीट बसपा के लिए छोड़ दिया है, समझ में आया कुछ: उदित राज 
कांग्रेस नेता उदित राज ने भी बसपा पर हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर गंभीर आरोप लगाते हुए लिखा,  ‘उ.प्र. में भाजपा 9 राज्यसभा की सीट जीत सकती थी लेकिन लड़े 8 पर ही। 1 सीट बीएसपी को छोड़ दिया। समझ में आया कुछ!’

PunjabKesari

भाजपा का साथ देने के लिए बसपा को मिला इनाम: इमरान प्रतापगढ़ी 
कांग्रेस के एक और नेता इमरान प्रतापगढ़ी ने भी सवाल खड़ा किया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ‘उत्तर प्रदेश में बीजेपी ने बसपा के लिये एक राज्यसभा सीट छोड़ दी! बहन जी ने इन दिनों तमाम मुद्दों पर जिस तरह भाजपा का साथ दिया था उसका इनाम है ये!’’

PunjabKesari

मायावती को बीजेपी की अघोषित प्रवक्ता बता चुकी हैं प्रियंका  
गौरतलब है कि बीते दिनों लद्दाख में भारत और चीन के बीच चल रहे गतिरोध को लेकर मायावती ने केंद्र सरकार का समर्थन दिया था। मायावती ने ट्वीट कर कहा था हमारी पार्टी रक्षा एवं सुरक्षा से जुड़े मुद्दे पर हमेशा केंद्र सरकार के साथ खड़ी हुई है, चाहे किसी भी दल की सरकार रही हो। मायावती के इस बयान को लेकर प्रियंका गांधी ने उन्हें भाजपा की ‘अघोषित प्रवक्ता’ बताया था। प्रियंका ने ट्वीट किया, ‘‘ मैंने कहा था कि कुछ विपक्ष के नेता भाजपा के अघोषित प्रवक्ता बन गए हैं, जो मेरी समझ से परे है।’’


Ajay kumar

Related News