रामपुर स्वार सीट पर NDA ने उतारा मुस्लिम कैंडिडेट, आजम खान के बेटे को चुनौती देने वाले जानें कौन है हैदर अली?

punjabkesari.in Monday, Jan 24, 2022 - 06:52 PM (IST)

लखनऊ: यूपी विधानसभा के लिए यूपी भाजपा की सहयोगी अपना दल (S) ने अपने पहले उम्मीदवार का ऐलान किया है। अपना दल ने रामपुर की स्वार सीट से हैदर अली खान (हमजा मियां) को उम्मीदवार बनाया है। अभी तक के घोषित प्रत्याशियों में एनडीए की ओर से 2014 के बाद हैदर पहले उम्मीदवार हैं, जो मुस्लिम समुदाय से आते हैं। हैदर का सामना आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम से होगा। समाजवादी पार्टी इस सीट से अब्दुल्ला आजम को उम्मीदवार बनाने की तैयारी में है।

इससे पहले हैदर अली खान को कांग्रेस ने स्वार से प्रत्याशी बनाया था। जिसके बाद वह अपना दल में शामिल हो गए। हैदर अली का कहना है कि उन्होंने कांग्रेस छोड़कर अपना दल (एस) का दामन इसलिए थामा, क्योंकि उन्हें जनता के हित में काम करना था। हैदर अली खान राजनीतिक पृष्ठभूमि वाले परिवार से आते हैं।  हैदर अली खान कहते हैं, 'मेरे परिवार के बनाए लालपुर पुल को सपा सरकार में आजम खान ने पैसे के लिए तुड़वा दिया था। इसमें लगे लोहे और अन्य चीजों को कौड़ियों के भाव बेच दिया। ये पुल रामपुर के ग्रामीण क्षेत्रों को शहर से जोड़ता था। योगी सरकार बनने के बाद मैंने सरकार से कहा तो दोबारा ये पुल बन रहा है।

सीएम योगी की तारीफ करते हुए हैदर ने कहा कि पुल का काम दोबारा शुरू करवाते वक्त मुझे एहसास हुआ कि यही सरकार लोगों के लिए काम कर सकती है। उन्होंने कहा, जिस तरह से अनुप्रिया पटेल की पार्टी अपना दल काम कर रही है, इससे मैं प्रभावित हुआ हूं। अनुप्रिया ने पिछड़ों के लिए काम किया है। उन्होंने कहा, सभी योजनाओं का लाभ यूपी में मुसलमानों को मिला है। ऐसे में मुसलमान एनडीए का साथ देगा।

अब्दुल्ला ने 2017 में हैदर के पिता काजिम अली को हराया था
अब्दुल्ला आजम ने 2017 में स्वार सीट पर हैदर के पिता काजिम अली को हराया था। खास बात ये है कि हैदर अली खान के पिता नवाब काजिम अली खान कांग्रेस के ही टिकट पर रामपुर से चुनाव लड़ रहे हैं। पिता नवाब काजिम अली खान इस बार कांग्रेस के टिकट पर रामपुर की दूसरी सीट से चुनाव मैदान में हैं। नवाब काजिम अली चार बार विधायक रहे हैं।  

कौन हैं हैदर अली खान?
हैदर अली खान कांग्रेस के दिग्गज नेता नूर बानो के पोते हैं और नवाब काजिम अली खान के बेटे हैं। हैदर अली रामपुर के शाही परिवार से संबंध रखते हैं। हैदर अली खान 31 साल के हैं। उन्होंने दिल्ली के मॉडर्न स्कूल से पढ़ाई की। इसके बाद उन्होंने यूके में यूनिवर्सिटी ऑफ एसेक्स से ग्रेजुएशन किया है। हैदर अली खान का ये पहला चुनाव है। हालांकि, वे 2014 लोकसभा चुनाव और 2012 और 2017 विधानसभा चुनाव में अपने पिता का चुनावी अभियान संभाल चुके हैं। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static