कोविड-19 की तीसरी लहर को दावत दे रहे लोग ! त्योहारी मौसम में लापरवाही पड़ सकती है भारी

punjabkesari.in Monday, Oct 11, 2021 - 04:47 PM (IST)

लखनऊ: कोरोना संक्रमण पर लगभग काबू पा चुके उत्तर प्रदेश में त्योहारों के मौसम में बाजारों में बढ़ रही भीड़भाड़ के बीच लोगबाग वैश्विक महामारी के खतरे के प्रति लापरवाह दिखने लगे हैं। चिकित्सकों का मानना है कि लोगों का लापरवाह रवैया कोविड-19 की तीसरी लहर के खतरे को आमंत्रण दे रहा है। बाजारों में हर दस में आठ लोग मास्क और सोशल डिस्टेसिंग का पालन नहीं कर रहे हैं। दुकानों और माल के अलावा एटीएम बूथ, बैंक और डाकघर में भी सेनेटाइजर यथा कदा दिखायी देते है जिसमें भी लोग इनका इस्तेमाल करना जरूरी नहीं समझ रहे हैं।

PunjabKesari
कोरोना की पहली लहर के बाद लोगों ने लापरवाही बरती थी जिसका खामियाजा उन्हें दूसरी लहर में बड़े नुकसान के साथ चुकाना पड़ा था। पहली लहर के मुकाबले दूसरी लहर अधिक घातक सिद्ध हुयी थी जिसमें सैकड़ों लोग अकाल मौत का शिकार बने थे। लगभग एक महीने तक आम जनजीवन को अस्त व्यस्त करने के बाद कोरोना का प्रकोप कुछ कम हुआ था मगर इससे आर्थिक गतिविधियां बुरी तरह प्रभावित हुयी और बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार गंवाने पड़े।    

PunjabKesari
सीजीएचएस के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ अरूण कृष्णा ने सोमवार को कहा कि लोगों को समझना होगा कि कोरोना अभी गया नहीं है। लोगों को अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग रहना होगा। टीकाकरण के बाद भी मास्क और सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना जरूरी है। जिन लोगों ने अभी तक कोरोना का टीका नहीं लगवाया है, वह बगैर देरी करे अपने नजदीकी टीकाकरण केन्द्र में जाकर पहली खुराक जरूर ले ताकि वह वैश्विक महामारी के कारण जान के खतरे से बच सकें। जिन लोगों ने पहला टीका ले लिया है, वह निर्धारित समय सीमा के भीतर दूसरा टीका जरूर लगवा लें और उसके बाद भी कोविड प्रोटोकाल का पालन करते रहे। डॉ कृष्णा ने कहा कि जिन लोगों को लगता है कि तीसरी लहर अब नहीं आयेगी, उन्हे दुनिया के सबसे समृद्ध लोकतंत्र अमेरिका का उदाहरण सामने रखना होगा जहां लोगों ने दूसरी लहर के बाद कोरोना टीकाकरण के प्रति उदासीनता बरती जिसका खामियाजा उन्हे तीसरी लहर के तौर पर उठाना पड़ा और स्वास्थ्य सेवाओं में अव्वल रहने के बावजूद आज भी वहां हर रोज हजारों की संख्या में लोग अपनी जान गंवा रहे हैं।       

इस बीच पिछले 24 घंटे में हुई 01 लाख 50 हजार 986 सैम्पल की टेस्टिंग में राज्य में कोरोना के 12 नए संक्रमित मरीज पाए गए, जबकि 11 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए। वर्तमान में प्रदेश में एक्टिव कोविड केस की संख्या 142 रह गई है, जबकि 16 लाख 86 हजार 928 प्रदेशवासी कोरोना संक्रमण से मुक्त होकर स्वस्थ हो चुके हैं। प्रदेश में अब तक 11 करोड़ 50 लाख से अधिक कोविड वैक्सीन डोज लगाए जा चुके हैं। 02 करोड़ 42 लाख से अधिक लोगों ने टीके की दोनों डोज प्राप्त कर ली है। इस प्रकार, 16 फीसदी से अधिक लोग पूरी तरह टीकाकवर प्राप्त कर चुके हैं। जबकि 61 फीसदी से अधिक लोगों ने कम से कम एक डोज लगवा ली है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static