लॉकडाउन का साइड इफेक्ट: बेरोजगारी ने बनाया लुटेरा, 10 लाख के गहने लूटने वालों को पुलिस ने दबोचा

punjabkesari.in Wednesday, Jul 01, 2020 - 03:12 PM (IST)

हमीरपुर: लॉकडाउन की वजह से बढ़ी बेरोजगारी के घातक परिणाम देखने को मिल रहे हैं। ताजा मामला उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले का है। यहां दिन दहाड़े हुई 10 लाख की लूट का पुलिस ने पर्दाफास कर दिया है। गिरफ्तार आरोपियों ने बताया कि लॉकडाउन की वजह से हम बेरोजगार हैं। आर्थिक तंगी की वजह से हमने इस वारदात को अंजाम दिया है।

बता दें कि बीते दिनों आरोपियों ने हथियारों के बल पर सुनार से 10 लाख रुपये का सोना और चांदी के जेवरों की लूट की थी। इस लूट के आरोप में पुलिस ने चार प्रवासी मजदूरों को गिरफ्तार किया है। ये सभी लॉकडाउन के चलते बेरोजगार होकर अपने गांव लौटे थे और आर्थिक तंगी ने उन्हें लुटेरा बना दिया। 

सोने-चांदी के जेवरों सहित दो मोटरसाइकिल और चार तमंचे बरामद 
पुलिस ने इनके कब्जे से लूटे गए सोने-चांदी के जेवरों सहित दो मोटरसाइकिल और चार तमंचे बरामद किए हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि लॉकडाउन के चलते वह लोग बेरोजगार हो गए थे और आर्थिक तंगी के चलते लूट करने लगे थे। जिसके बाद उन्होंने योजना बनाकर दिन दहाड़े एक सुनार का सोने-चांदी से भरा बैग लूट लिया था। वहीं, एक हफ्ते की लंबी जद्दोजहद के बाद आखिर ये चारों पुलिस के शिकंजे में आए गए हैं. हालांकि इनका सरगना फरार है जिसकी पुलिस तलाश कर रही है। 

लुटेरों की तलाश में जुटी थी पुलिस
एसपी श्लोक कुमार ने लूट का खुलासा करते हुए बताया कि ये लूट जिले के मौदहा कस्बे के सुनार का काम करने वाले सर्राफा व्यापारी अखिलेश कुमार सोनी के साथ हुई थी। 23 जून की सुबह वह रेलवे स्टेशन के पास से गुजर रहे थे। तभी दो मोटरसाइकिलों से पांच युवकों ने हथियारों के बल पर सोने चांदी से भरा बैग लूट लिया था और फरार हो गए थे। पुलिस ने इस लूट की एफआईआर दर्ज कर चार थानों की पुलिस टीम बनाकर लुटेरों की तलाश शुरू कर दी थी।

लूटा गया सोना-चांदी बरामद: एसपी 
एसपी श्लोक कुमार ने आगे बताया कि एक हफ्ते बाद पुलिस ने चारों लुटेरों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल कर ली। साथ ही लूटा गया सोना, चांदी बरामद कर सभी को जेल भेज दिया गया है। आरोपी दिल्ली, गुजरात में मजदूरी का काम करते थे लेकिन लॉकडाउन के चलते काम धंदा बंद हो गया था। आर्थिक तंगी के चलते उन लोगों ने अपराध का रास्ता अपनाया। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Ajay kumar

Related News

Recommended News

static