‘अधिकारियों का हिसाब-किताब करूंगा’ वाले बयान पर फंसे मुख्तार अंसारी के बेटे, मामला दर्ज

punjabkesari.in Friday, Mar 04, 2022 - 01:23 PM (IST)

मऊ: उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में बंद बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के पुत्र एवं विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी (SP) गठबंधन के मऊ सीट से प्रत्याशी अब्बास अंसारी के धमकी भरे कथित बयान पर संज्ञान लेते हुए प्रशासन ने सुसंगत धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है। अंसारी के एक वायरल वीडियो में जनसभा के दौरान अधिकारियों को धमकी देते हुए सुना जा सकता है कि सपा सरकार आने पर मऊ में तैनात अधिकारियों से चुन चुन कर हिसाब लिया जाएगा।

 

मऊ सदर से सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) प्रत्याशी अब्बास अंसारी ने गुरूवार रात नगर के पहाड़पुरा मैदान में एक चुनावी जनसभा मे ‘बाहुबली' शब्द की व्याख्या करते हुये कहा ‘‘ जिस नेता के साथ लाखों-करोड़ों बाहों का बल हो वह बाहुबली नहीं होगा तो कौन होगा। हम हैं बाहुबली हमें इससे कोई गुरेज नही है। अगर मेरे लोगों के इज्जत, आन, बान, शान और आबरू पर कोई आंच डालने की कोशिश करेगा तो उस आंच को बुझाना हम जानते हैं। आज तक बुझाया है आगे भी बुझाएंगे, हमें कोई रोक नहीं सकता इस बात से।''मऊ के पुलिस अधीक्षक सुशील चंद्रभान धुले की ओर से शुक्रवार को जारी बयान में यह जानकारी दी गयी है।

उन्होंने कहा कि प्रत्याशी अब्बास अंसारी के वायरल वीडियो पर संज्ञान लेते हुये चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज किया गया है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि मऊ कोतवाली थाने में भारतीय दंड संहिता का सुसंगत धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर मऊ सदर विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग ऑफीसर को अग्रिम कारर्वाई हेतु रिपोर्ट प्रेषित कर दी गयी है।

गौरतलब है कि अंसारी इस वीडियो में कहते दिख रहे हैं कि ‘‘ जिस दिन मैं लखनऊ से आया था, उस दिन सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से मिला था और लम्बी बात हुई थी। और यह कहकर आया हूं कि छह महीने तक किसी की ट्रांसफर पोस्टिंग नहीं होगी भईया। पहले जिन्होंने जिनके कैरियर बर्बाद किए हैं, जिन्होंने जिनके ऊपर मुकदमे लगाए हैं, पहले उनकी तो जांच पड़ताल कर लिया जाए। ''

अंसारी ने उपस्थित जनसमुदाय से कहा ‘‘ आप सब यहां बहुत परेशान हुए हैं, पैसा लिया गया है, छोटी-छोटी बातों के लिए। बुनकरों के ऊपर जुल्म करने के लिए इन्होंने साजिशें रचीं। पेट पर हमला किया है।'' उन्होंने जब यह बात कही छह महीने तक किसी की ट्रांसफर पोस्टिंग नहीं होगी भईया। जो यहां है वह यहां ही रहेगा। अपनी तरफ और विपरित दिशा में उंगली का इशारा करते हुए कहा कि पहले हिसाब किताब होगा। उसके बाद उनके जाने के सभी पेपर पर मुहर लगाया जाएगा। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static