C-TET में नकल कराने वाले गैंग के सरगना व सॉल्वर समेत सात को UP पुलिस ने किया गिरफ्तार

1/31/2021 8:08:50 PM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स ने केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, दिल्ली द्वारा आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा (सी-टेट)-2021 की परीक्षा में नकल कराने वाले गिरोह के सरगना व साल्वर सहित 7 लोगों को आज गिरफ्तार कर लिया। एसटीएफ प्रवक्ता ने यहां यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि प्रयागराज में कर्नलगंज इलाके में साइंस फेकल्टी फुटबाल ग्राउण्ड गेट के पास रविवार को केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, दिल्ली द्वारा केन्द्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी)-2021 के तहत दो पालियों में आफलाइन लिखित परीक्षा आयोजित की जा रही है। इस सम्बन्ध में अभ्यर्थियों को बहला-फुसलाकर धनउगाही का प्रयास करने और प्रश्न पत्र लीक कराने वाले तत्वों को चिन्हित कर उनके विरूद्ध प्रभावी कारर्वाई करने के लिए एसटीएफ की टीमों को अभिसूचना संकलन कर ठोस कारर्वाई का निर्देश दिया गया था।

उन्होंने बताया कि निर्देश के क्रम में एसटीएफ के अपर पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार पाण्डेय के पर्यवेक्षण में प्रयागराज की फील्ड इकाई, द्वारा अभिसूचना संकलन की कारर्वाई की जा रही थी। इसी क्रम में निरीक्षक अतुल कुमार सिंह के नेतृत्व में एक टीम शहर प्रयागराज क्षेत्र में आपराधिक अभिसूचना संकलन में व्यस्त थी कि मुखबिर खास के माध्यम से सूचना मिली कि के पी उच्च शिक्षा संस्थान, प्रयागराज में दो साल्वर तथा इन्दिरा गॉधी गर्ल्स डिग्री कालेज रामपुर,तारामण्डल, गोरखपुर में एक साल्वर (प्राक्सी कन्डीडेट) सीटीईटी परीक्षा में मूल अभ्यर्थियों के स्थान पर गलत तरीके से परीक्षा दे रहे है।       

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों के कब्जे से सीटेट परीक्षा से सम्बन्धित 07 अभ्यर्थियों के प्रवेश पत्र। दो रजिस्टेशन फार्म की छायाप्रति,43 मोबाइल स्क्रीन शॉट, तीन कूटरचित आधार काडर् और मोबाइल फोन, चार लाख रुपये का चेक, तीन वाहन और 13500 रूपये बरामद किए। प्रवक्ता ने बताया कि पकड़े गये साल्वरों ने पूछताछ पर बताया कि प्रयागराज के प्रशान्त सिंह व धर्मेन्द्र सिंह द्वारा 50-50 हजार रूपये के एवज में मूल अभ्यर्थियों के स्थान पर एडमिट काडर् व आधार काडर् की फोटो मिक्सिंग करके हम लोगों को देकर फर्जी तरीके से परीक्षा देने के लिए कहा गया था। गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जेल भेज दिया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Moulshree Tripathi

Related News

Recommended News

static