डबल मर्डर मिस्ट्रीः पुलिस के मुताबिक थी नैचुरल डेथ, पोस्टमार्टम की रिपोर्ट ने खोला राज

Friday, January 5, 2018 5:06 PM
डबल मर्डर मिस्ट्रीः पुलिस के मुताबिक थी नैचुरल डेथ, पोस्टमार्टम की रिपोर्ट ने खोला राज

कानपुर(अमब्रिश त्रिपाठी): उत्तर प्रदेश के कानपुर में पुलिस की 2 बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है। जहां अलग-अलह जगहों पर 2 मौत हुई, लेकिन पुलिस ने बिना जांच-पड़ताल किए। उन्हें नैचुरल डैथ समझ लिया और बेफिक्र हो गए। वहीं इन दोनों मौत का खुलासा तब होता है जब 72 घण्टें बाद उनकी पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आती है।

जानिए पूरा मामला
जानकारी के मुताबिक पहला मामला कानपुर के अधिवक्ता की मौत का है। जहां खागा फतेहपुर के रहने वाले सुजान सिंह ठण्ड के कारण कुछ दिन से घर जाने की बजाय चेम्बर में ही सो जाते थे। मंगलवार को उन्हें अपने चेम्बर में मृत पाया गया तो फारेन्सिक टीम ने उनके चैम्बर की पड़ताल की, लेकिन कुछ भी सन्देहजनक न मिलने के कारण ऐसा माना गया कि अधेड़ उम्र के अधिवक्ता की ठण्ड लगने से मौत हुई है। 
PunjabKesari
अधिवक्ता की मौत गला घोंटने से हुई 
लेकिन गुरूवार को डाक्टरों ने शव का पोस्टमार्टम किया तो पता चला कि उनकी मौत गला घोंटे जाने की वजह से हुई है। इस खुलासे के बाद आज शुक्रवार को सभी वकील एक दिन की सांकेतिक हड़ताल पर चले गये। उन्होने जिला प्रशासन को ज्ञापन देकर इस रहस्यमय कत्ल का राजफाश करने की मांग की है।
PunjabKesari
दूसरा मामला-संवासिनी गृह में हुई महिला की मौत
वहीं दूसरी घटना कानपुर के महिला संवासिनी गृह में राजकीय अभिरक्षा में रह रही एक युवती की हत्या से जुड़ा हुआ है। सीडब्लूसी के आदेश से यहां रखी गई 24 साल की एक युवती को पिछले मंगलवार बीमार बताकर कानपुर मेडिकल कालेज से संबंध एलएलआर अस्पताल ले जाया गया था। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। राजकीय आश्रय में रह रही एक संवासिनी की मौत को प्रशासन ने गंभीरता से नहीं लिया।
PunjabKesari
तीसरे दिन खुला मौत का राज 
जिसके बाद उसकी डेड बाॅडी मार्चुरी में रख दी गई। दूसरे दिन बुधवार को मजिस्ट्रेट  के आने पर उसका पंचनामा किया गया। फिर लाश मार्चुरी में रखवा दी गई। तीसरे दिन यानि गुरूवार की शाम डाक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम कराया गया तो जो रिपोर्ट आई उससे पुलिस व प्रशासन में हड़कंप मच गया। 
PunjabKesari
रेप के बाद की गई है हत्या 
प्रोबेशन अधिकारी जिस युवती को मिर्गी का दौरा आने की बात बता रही थीं, उसका मुंह दबाकर हत्या करने की बात सामने आई। रिपोर्ट में यह भी लिखा है कि युवती के नाजुक अंगों पर चोट के निशान पाए गए हैं। जिससे उसके साथ बलात्कार किए जाने की आशंका है। रिपोर्ट के मुताबिक हत्यारे उसके साथ बड़ी बेरहमी से पेश आए थे और उसे जमकर पीटा भी गया। युवती का शरीर कई जगहों पर नीला पड़ा हुआ था।
PunjabKesari
जांच में जुटी पुलिस
बहरहाल पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद देर रात पुलिस के एडीजी, आईजी और एसएसपी संवासिनी गृह पहुचे और सीसीटीवी का डीबीआर जब्त कर लिया गया। संवासिनी गृह में रहने वाली अन्य युवतियों से भी पूछताछ की जा रही है। इसके अलावा प्रमुख सचिव गृह और  प्रमुख सचिव महिला कल्याण को रिपोर्ट भेजी जा रही है। महिला कल्याण निदेशालय द्वारा भी जांच की बात कही गई है।

वहीं सोचने की बात यह है कि दोनों मामले 72 घण्टे बाद पुलिस के प्रकाश में आए हैं। लेकिन 72 घण्टे की अवधि गुनाह के तमाम सबूत मिटाने के लिए काफी होते हैं। 



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन