देवबंद में 25 राज्यों के 1500 जमीयत मेंबर जुटे, मदनी बोले- जुल्म सह लेंगे, देश पर आंच नहीं आने देंगे...

punjabkesari.in Saturday, May 28, 2022 - 04:40 PM (IST)

सहारनपुर: यूपी के देवबंद में आज यानी 28 मई से जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने दो दिन का जलसा आयोजित किया है, जिसमें शामिल होने के लिए अलग-अलग संगठनों के प्रतिनिधि पहुंचे हुए हैं। इसमें जमीयत के अध्यक्ष मौलाना महमूद मदनी ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि जो फैसला लेंगे, फिर उससे पीछे नहीं हटेंगे। हालांकि इस दौरान वो भावुक भी हो गए और उन्होंने कहा कि मुसलमानों का चलना तक मुश्किल हो गया है। उन्होंने कहा कि, हमें हमारे ही देश में अजनबी बना दिया गया है, लेकिन जो एक्शन प्लान वो लोग तैयार कर रहे हैं, उस पर हमें नहीं चलना है।
PunjabKesari
मौलाना मदनी ने कहा कि, जिस तरह की चीजें हो रही हैं उसके लिए मुस्लिमों को जेल भरने के लिए तैयार रहना चाहिए। मदनी ने कहा कि हम किसी एक्शन प्लान पर नहीं चलेंगे हालात मुश्किल हैं, लेकिन इस समय भी मायूसी की जरूरत नहीं है।

PunjabKesariउन्होंने कहा कि हम जुर्म सह लेंगे लेकिन देश पर आंच नहीं आने देंगे। हम हर चीज से समझौता कर सकते हैं, पर देश से नहीं इस बात को हर किसी को समझने की जरूरत है। तो ये फैसला कमजोरी की वजह से नहीं है, बल्कि जमीयत-उलमा की ताकत की वजह है। ये ताकत हमें कुरान ने दी है. हम हर चीज से समझौता कर सकते हैं, अपने ईमान से समझौता नहीं कर सकते हैं।
PunjabKesari
मीडिया से रूबरू होते मौलाना मदनी ने कहा कि मुल्क के हालात और उस पर सरकारों की खामोशी अफसोसनाक है। यह स्थिति बदलनी चाहिए। देश की चिंता करने वाले, फिक्र करने वाले लोग हैं, उन्हें इस स्थिति को संभालना होगा। मुल्क में जो बांटने वाला वातावरण है, उसे खत्म करना होगा। नफरत के खेल को बंद करना और करवाना होगा।
PunjabKesari
मौलाना ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो जमीयत जेल भरने के लिए भी तैयार है।  साथ ही, उन्होंने कहा कि ज्ञानवापी मस्जिद, ताजमहल और मथुरा मस्जिद विवाद पर कल चर्चा होगी। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static