हाथरस गैंगरेपः बोले दरिंदों के परिजन, बेटा दोषी हो तो चौराहे पर खड़ा करके मार दो, हमें नहीं होगी आपत्ति

punjabkesari.in Saturday, Oct 03, 2020 - 09:40 AM (IST)

हाथरसः उत्तर प्रदेश के हाथरस में किशोरी के साथ हुए गैंगरेप व उसकी मौत से देशभर में आक्रोश उबाल पर है। वहीं चारों दरिंदों के माता-पिता ने योगी सरकार से पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कराने की मांग की। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर उनके बेटे दोषी हैं तो उन्हें चौराहा पर खड़ा करके गोली मार दी जाए।

मेंरा बेटा निर्दोश है योगी जी
किशोरी संग गैंगरेप के आरोप में जेल गये रामू के पिता का कहना है कि उनका बेटा निर्दोष है। मुकदमा दर्ज होने के दो दिन बाद पुलिस उन्हें और बेटे को थाने ले गई। बीस सितम्बर को दोनों को पूछताछ के बाद छोड़ दिया। उनके बेटे के खिलाफ कोई एनसीआर तक दर्ज नहीं है। जिस दिन की घटना बताई जा रही है। उस समय बेटा ड्यूटी पर था।

बेटा पुरानी रंजिश का हुआ शिकार
वहीं दूसरे आरोपी रवि के पिता का कहना है कि पुरानी रंजिश के चलते उनके बेटे को फंसाया गया है। इस पूरे प्रकरण से उनके बेटे का कोई लेना देना नहीं है। मृतका के बाबा से 2001 में विवाद हुआ था। ये उसी का परिणाम है।

मेरे बेटे ने पीड़िता को पानी पिलाया
जेल गए लवकुश की मां ने कहा कि वह अपने बेटे लवकुश के साथ बाजरा काट रही थी। शोर सुना तो अपने बेटे के साथ मौके पर पहुंच गयी। उनका बेटा ही युवती के लिए पानी लेकर आया। उसे पानी पिलाया। उसकी ये सजा मिली।

मेरा बेटा काम पर था 
गैंगरेप कांड के मुख्य आरोपी संदीप के पिता का कहना है कि जिस वक्त शोर शराब हुआ था। उस समय उनका बेटा संदीप उनके साथ गाय को पानी पिला रहा था। शुरुआत में उनके बेटे के खिलाफ जानलेवा हमले का मुकदमा दर्ज कराया था, लेकिन बाद में तीन अन्य लोगों के नाम जोड़ दिए।

 

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Moulshree Tripathi

Related News

Recommended News

static