दबंगों की प्रताड़ना से फांसी के फंदे पर झूला ITI छात्र, सुसाइड नोट में लिखा- मै कायर नहीं हूं...सॉरी मम्मी-पापा

punjabkesari.in Sunday, Nov 22, 2020 - 08:31 PM (IST)

प्रतापगढ़: उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ से दिल को दहला देने वाली घटना सामने आई है। जहां दबंगों की प्रताड़ना के चलते आईटीआई के छात्र ने फांसी के फंदे पर झूलकर आत्महत्या कर ली। छात्र के मानसिक उत्पीड़न से मौत की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। वहीं पुलिस को मृतक के कमरे से सुसाइड नोट मिला है। जिसमें मृतक छात्र ने मां-पिता के नाम भावनात्मक पत्र में कहा है कि वह कायर नहीं है। आरोपितों के उत्पीड़न के चलते वह आत्महत्या कर रहा है, .... सॉरी पापा, सॉरी मम्मी।

PunjabKesari
थाना प्रभारी निरीक्षक संजय यादव ने रविवार को बताया कि बेलहा गाँव निवासी धीरेन्द्र उर्फ़ धीरू (20) जिला मुख्यालय स्थित आईटीआई कालेज का छात्र था और इन दिनों घर पर ही रह रहा था। थाना प्रभारी के अनुसार शनिवार को उसने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। दोपहर बाद उसकी माँ गुड्डी देवी खेत से लौटी और खाना देने गई तो कमरा बंद था। रोशनदान से देखा तो शव फांसी पर लटक रहा था।

PunjabKesari
चीख पुकार पर गाँव वाले पहुंचे और दरवाजा तोड़ कर शव को फांसी के फंदे से नीचे उतारा और पुलिस को सूचित किया। आनन-फानन में सीओ तथा कोतवाल भारी फोर्स के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। घटना के कारणों की छानबीन को लेकर घंटों मशक्कत करते दिखे। पुलिस ने तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया है।

PunjabKesari
वहीं पिता जोखू लाल शर्मा आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की मांग कर रहे हैं।

PunjabKesari
मौके पर पहुंची पुलिस को कमरे से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ, जिसमें उसने गाँव के प्रदीप सिंह व भीष्म सिंह सहित तीन लोंगों को प्रताड़ित करने और आत्महत्या के लिए जिम्मेदार ठहराया है। यादव ने बताया कि सुसाइड नोट के आधार पर प्रदीप सिंह व भीष्म सिंह सहित तीन आरोपियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज कर घटना की जांच की जा रही है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static