आतंकियों से लोहा लेते शहीद हुआ मेरठ का लाल राम सिंह, सैन्य सम्मान के साथ किया गया अंतिम संस्कार

punjabkesari.in Saturday, Aug 21, 2021 - 11:23 AM (IST)

मेरठ: जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई के दौरान शहीद हुए जूनियर कमीशंड ऑफिसर (जेसीओ) राम सिंह का शुक्रवार देर शाम पूरे सैन्य सम्मान के साथ सूरजकुंड पर अंतिम संस्कार किया गया। स्थानीय प्रशासन ने बताया कि इससे पहले जेसीओ सिंह का पार्थिव शरीर शुक्रवार की शाम उनके निवास स्थान ईशापुरम पर पहुंचा। शहीद का पार्थिव शरीर पहुंचते ही हर तरफ मातम पसर गया। अंतिम दर्शन के लिए उनके घर पर भीड़ उमड़ पड़ी।

PunjabKesari
फरवरी 2022 में वह 30 साल की सेवा के बाद सेवानिवृत्त होने वाले थे
उन्होंने बताया कि शहीद की पत्नी अनिता भंडारी और बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल था। मेरठ से भारतीय जनता पार्टी के सांसद राजेंद्र अग्रवाल शहीद के परिजनों को सांत्वना देने पहुंचे। जम्मू-कश्मीर के राजौरी में आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई के दौरान मेरठ निवासी जेसीओ सिंह बृहस्पतिवार को शहीद हो गए। सूबेदार राम सिंह मूल रूप से पौड़ी गढ़वाल के रहने वाले थे और लंबे समय से मेरठ में परिवार के साथ रह रहे थे। पौने दो साल से वह राष्ट्रीय राइफल के साथ कार्यरत थे और फरवरी 2022 में वह 30 साल की सेवा के बाद सेवानिवृत्त होने वाले थे।

PunjabKesari
पांच बच्चों में से दो बेटियों प्रियंका रावत और करिश्मा नेगी की हो चुकी शादी
राम सिंह के पांच बच्चों में से दो बेटियों प्रियंका रावत और करिश्मा नेगी की शादी हो चुकी है। सात साल से उनका परिवार मेरठ के ईशापुरम के बी-28 में रह रहा है। बेटा सोलन एमकॉम की पढ़ाई करते हुए सीडीएस की तैयारी कर रहा है। छोटी बेटी मीनाक्षी और मनीषा पढ़ रही हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Umakant yadav

Related News

Recommended News

static