प्रयागराज: जमीनी विवाद में तीन सगे भाइयों की पीट-पीट कर हत्या

punjabkesari.in Thursday, May 21, 2020 - 04:05 PM (IST)

प्रयागराज: जनपद से एक सनसनी घटना सामने आई है। जहां पर जमीनी विवाद में तीन सगे भाइयों की पीट-पीट कर हत्या कर गई। हत्या की खबर पूरे इलाके में आग की तरह फैल गई। मौके पर लोगों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव के कब्जे में लेकर जांच शरू कर दी है।

बता दें कि मामला प्रयागराज के कोरांव थानांतर्गत निश्चिन्तपुर गांव का है। जहां पर जमीन को लेकर दो पक्षों में काफी दिनों विवाद चला आ रहा है। कई बार दोनों पक्षों में मारपीट हो चुकी है। बुधवार को एक बार फिर दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए। ब्रह्मदीन सिंह के तीन पुत्र, इंद्रबहादुर सिंह (48), रवींद्र बहादुर (42) और रामजी सिंह (35) की जान चली गई। एक महिला समेत कुछ लोग घायल हुए हैं। इंद्र बहादुर की मौके पर ही मौत हो गई थी। जबकि दो अन्‍य की अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई। वहीं पुलिस ने छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

ग़ौरतलब है कि 2014 में भी इसी चार बीघा जमीन के विवाद में क्षेत्र पंचायत सदस्य रहे मुलायम यादव की हत्या भी हो चुकी है। इस मामले में मुख्य आरोपी ब्रह्मदीन व उसके तीन बेटे अभी जेल में हैं।  गांव के रामजन यादव और उनकी पत्नी जोखनी देवी के पास करीब 40 बीघे जमीन थी। बेटा ना होने की वजह से जोखनी देवी ने अपने नाती ब्रह्मदीन को अपने साथ रख लिया। उसे जमीन का उत्तराधिकारी बना दिया। इसी समय रामजन यादव के रिश्तेदार शिवनारायण यादव भी वहीं आकर रहने लगे।

 रामजन की मौत के बाद शिवनारायण ने भी उनकी जमीन पर दावा ठोक दिया। 36 बीघे भूमि का मामला तो बातचीत से निपट गया, लेकिन 4 बीघे का विवाद लगभग 20 साल से चला आ रहा है। दोनों ही पक्ष इस जमीन पर दावा जताते रहे हैं। मुलायम उस समय क्षेत्र पंचायत सदस्य भी थे। इस कांड में ब्रह्मदीन मुख्य आरोपी बनाया गया। उनके साथ ही बेटे लक्ष्मण कुंवर और अनिरुद्ध के खिलाफ भी रिपोर्ट दर्ज कराई गई। चारों अभी तक जेल में हैं। बेटे इंद्र बहादुर राम सिंह और रविंद्र जब उसी विवादित जमीन को ट्रैक्टर से जोतने के लिए पहुंचे तो उनकी आरोपियों ने हत्या कर दी।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Edited By

Ramkesh

Related News

Recommended News

static