तरबूज में छिपाकर पंजाब ले जाई जा रही थी 4.5 करोड़ की स्मैक, बरेली पुलिस ने इरादों पर फेरा पानी

6/6/2020 4:32:23 PM

शामलीः कोरोना काल में तस्करी की वारदातों में भी इजाफा हुआ है। यूपी के शामली में पुलिस ने यूपी-हरियाणा सीमा पर चेकिंग के दौरान 4.5 करोड रूपए की स्मैक बरामद की है। नशे की यह खेप ट्रक में तरबूज के बीच छिपाकर बरेली से पंजाब ले जाई जा रही थी। पुलिस ने नशा तस्करों के रूप में ट्रक सवार 2 लोगों को भी गिरफ्तार किया है, जिन्होंने पुलिस को बताया कि यह खेप पहुंचाने के लिए उन्हें 50 हजार रूपए मिलने थे, लेकिन पुलिस ने सारा खेल चौपट कर दिया। एसपी ने तस्करी का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को 25 हजार रूपए का ईनाम देने की घोषणा की है।
PunjabKesari
शामली जिले की हरियाणा सीमा से लगने वाली जिले की बिड़ौली चेकपोस्ट पर पुलिस ने बड़ी नशा तस्करी का भंडफोड़ किया है। पुलिस ने ट्रक सवार दो तस्करों को गिरफ्तार करते हुए 4.5 करोड़ रूपए की स्मैक बरामद की है। दावा है कि नशे की यह खेप ट्रक में तरबूजों के बीच छिपाकर बरेली से पंजाब जा रही थी। दरअसल झिंझाना थाना पुलिस हरियाणा सीमा स्थित बिडौली चेकपोस्ट पर चेकिंग कर रही थी। इसी बीच पुलिस ने हरियाणा की तरफ जा रहे एक कैंटर ट्रक को चेकिंग के लिए रूकवा लिया। ट्रक में तरबूज लदे हुए थे, जिनके नीचे से पुलिस ने करीब 4.5 किलोग्राम स्मैक बरामद की। पुलिस ने नशे की बड़ी खेप बरामद होने पर ट्रक में सवार बरेली निवासी शहवाज और मुरादाबाद निवासी दानिश को गिरफ्तार कर लिया।

तरबूजों के बीच छिपाया गया था नशा
गिरफ्तार तस्कर शहवाज और दानिश ने पुलिस को बताया कि नशे की इस खेप को पार लगाने के लिए उन्हें 50 हजार की रकम मिलनी थी। बरेली के रहने वाले दो लोगों ने उन्हें यह खेप चंडीगढ़ पंजाब से करीब 20 किलोमीटर आगे डिलीवर करने के लिए कहा था। तस्करों ने पुलिस को बताया कि गाड़ी में तरबूज इसलिए भरे गए थे, ताकि पुलिस को शक ना हो। फिलहाल पुलिस इन दोनों तस्करों से गहन पूछताछ में जुटते हुए ड्रग तस्करी के नेटवर्क की टोह लेने में जुट गई है।

एसपी बोले नेटवर्क का करेंगे खुलासा
एसपी विनीत जायसवाल ने बताया कि जनपद के थाना झिंझाना पुलिस द्वारा सराहनीय कार्य करते हुए मुखबिर की सूचना पर चेकिंग के दौरान दो ड्रग तस्करों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से साढ़े 4 किलो स्मैक बरामद की गई है, जिसकी कीमत करीब 4.5 करोड़ रूपए है। पुलिस द्वारा तरबूजों से भरा एक कैंटर भी बरामद किया गया है। दोनों अभियुक्तों से पूछताछ में पता चला है कि नशे की खेप बरेली में कुछ लोगों ने उन्हें दी थी, जिसे पंजाब के चंडीगढ़ में डिलीवर करना था। पुलिस पूरे नेटवर्क को तोड़ने के प्रयासों में जुट गई है। संबंधित टीम को 25 हजार रूपए का पुरस्कार देने की घोषणा भी की गई है। 


Tamanna Bhardwaj

Related News