बलि देने के लिए महिला ने मासूम का किया था अपहरण, पुलिस ने मामले का किया खुलासा

punjabkesari.in Thursday, Apr 07, 2022 - 06:56 PM (IST)

ललितपुर: जिले के थाना कोतवाली पुलिस को सूचना मिली कि किसी अज्ञात नकाबपोश महिला द्वारा 5 वर्षीय मासूम बालक आशीष उर्फ कालू पुत्र कल्याण चन्देल निवासी आरा मशीन के पीछे नेहरूनगर को बहला-फुसलाकर अपहरण कर लिया गया है। घटना के संबंध में कोतवाली ललितपुर में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया। घटना की सूचना पर पुलिस अधीक्षक ललितपुर निखिल पाठक द्वारा तत्काल घटनास्थल का निरीक्षण किया। उन्होंने अपहृत मासूम बालक को सकुशल बरामदगी हेतु कोतवाली ललितपुर, एसओजी व सर्विलांस टीम को निर्देशित किया गया।

PunjabKesari

घटना की संवेदनशीलता को दृष्टिगत अपर पुलिस महानिदेशक महोदय कानपुर जोन, कानपुर व पुलिस उपमहानिरीक्षक झांसी परिक्षेत्र, झांसी के निर्देशानुसार जनपद झांसी की एसओजी व सर्विलांस टीम को भी अपहृत बालक को सकुशल बरामदगी हेतु लगाया गया था। गठित टीमों द्वारा घटनास्थल से प्राप्त सीसीटीवी फुटेज के आधार पर जनपद के सम्भावित स्थानों व मध्य प्रदेश के बीना, सागर, दमोह, मुगावली, अशोकनगर, भोपाल आदि कई जगहों पर नकाबपोश अज्ञात महिला व बालक की तलाश की गयी। इसी दौरान पुलिस ने मुखबिर की निशानदेही पर रनगांव निवासी होमगार्ड शंकर बरार पुत्र डरूलाल के घर से बालक को बरामद कर लिया।

PunjabKesari

पुलिस अधीक्षक ने बताया आरोपी ने पूछताछ के दौरान बताया कि उसके पुत्र जगतदेव की शादी को लगभग 16 वर्ष हो चुके हैं, किन्तु अभी तक संतान नहीं हुई। तंत्र विद्या से नाबालिग बालक की बलि देने से संतान की प्राप्ति करना था। मेरे दामाद जितेन्द्र पुत्र मथुरा प्रसाद निवासी गोविंद नगर ने अपने मुहल्ले की गीता उर्फ चंदावली वाली पत्नी फूलचन्द्र निवासी गोविंद नगर से 80000 रुपये में बच्चा दिलाने का सौदा किया था। गीता उर्फ चंदावली वाली ने चेहरा ढककर से मासूम आशीष का अपहरण कर लिया था।  उन्होंन बताया महिला फरार चल रही है। उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया। बालक को सकुशल उसके माता-पिता को सुपुर्द किया गया।  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Ramkesh

Related News

Recommended News

static