वसीम रिज़वी का विवादित बयान- कोरोना से मरने वाले मुसलमानों को दफनाएं नहीं जलाएं

punjabkesari.in Thursday, Mar 19, 2020 - 03:54 PM (IST)

नई दिल्ली/लखनऊ: धीरे-धीरे भारत में भी कोरोना ने पांव पसारना शुरू कर दिया है। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सरकार की तरफ से हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। ऐसे में शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने विवादित बयान जारी करते हुए कहा, ”अगर मुस्लिम में किसी का कोरोना से निधन होता है, तो वह उसे दफनाएं नहीं बल्कि इलेक्ट्रॉनिक मशीन से दाह संस्कार करवाएं, जिससे वायरस समाप्त हो जाए।” वसीम रिजवी ने अपने जारी बयान में बताया कि शिया वक्फ बोर्ड अपने कब्रिस्तानों में ऐसा विचार भी कर रहा है। कोरोना से साथ मिलकर लड़ने की जरूरत है।

इसके साथ ही लखनऊ में मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने भी कोरोना को लेकर लोगों को एहतियात बरतने की हिदायत दी है। उन्‍होंने कहा, ”लोग बड़ी मस्जिदों की जगह मोहल्ले की छोटी मस्जिदों में जुमे की नमाज पढ़े। इसके साथ ही बुजुर्ग और छोटे बच्चे घरों में ही नमाज पढ़े।”


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Ajay kumar

Related News

Recommended News

static